जासं, मुहम्मदाबाद गोहना (मऊ) : शिवरात्रि के उपलक्ष्य में कस्बे के शेखवाड़ा मुहल्ले में स्थित ब्रह्माकुमारी की उपशाखा के प्रांगण में शिवरात्रि महापर्व को खुशी और उमंग उत्साह से शुक्रवार को मनाया गया। इस दौरान सेंटर की मुख्य प्रशासिका राजयोगिनी ब्रह्मकुमारी गोमा ने शिवरात्रि शब्द और उसके मनाने के गूढ़ रहस्यों को उद्घाटित किया। उन्होंने कहा कि परमात्मा एक है और सत्य है। उसके ध्यान से ही आत्मा शक्तिशाली बनती है। परमात्मा उसे कहेंगे जो सर्वमान्य हो सर्वोच्च हो, सबसे न्यारा हो और सर्वज्ञ हो तथा सर्वगुण व शक्तियों का भंडार हो। मनुष्य आत्माएं देव आत्माएं, धर्मात्माएं अलग है। उसी तरह परमात्मा भी अलग है। जिसका नाम शिव है। जिस के स्वरूप को सभी धर्मों में एक ही रूप और अलग-अलग नामों से जाना जाता है। अत: सभी धर्मों के लोग अहम भाव को छोड़कर इस महासत्य को पहचाने तो पूरे विश्व में सद्भावना और विश्व बंधुत्व की भावना प्रबल होगी। इस अवसर पर आशा प्रसाद, रामानंद, मोती यादव, सुदामा, वैदेही यादव, नुसरत, शाहिद, ओमप्रकाश सिंह, रामबचन स्मृति आदि लोग उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस