जागरण संवाददाता, मऊ : सर्दी का मौसम चल रहा है तो वहीं एक ओर मच्छरों का प्रकोप रुकने का नाम ही नहीं ले रहा है। इससे लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। नगर पालिका परिषद की ओर से दवा का छिड़काव नहीं किया जा रहा है, जिससे मच्छरों की संख्या दिन पर दिन बढ़ती जा रही है। शाम होते ही मच्छरों का हमला शुरू हो जाता है, वहीं नाले-नालियों की तली झाड़ सफाई न होना भी अहम कारण है।

सहादतपुरा के वार्ड नंबर 28 जहां पर साफ-सफाई बेहतर नहीं है। नाले-नालियां कूड़ा-करकट से बजबजाते हुए देखे जा सकते हैं। इन नाले-नालियों की प्रतिदिन सफाई नहीं होती है। सफाई कर्मचारी सिर्फ नालियों से ऊपर से कूड़ा हटाकर हटाकर अपना कोरम पूरा कर लेते हैं। सिल्ट को हाथ तक नहीं लगाते हैं। बेहतर ढंग से सफाई न होने की वजह से मच्छर पनपते रहते हैं, जो लोगों का जीना दूभर करते हैं। अब सर्दी का सीजन चल रहा है। इससे मच्छरों की संख्या बढ़ गई है। मच्छरों के प्रकोप को नियंत्रित करने के लिए नगर पालिका की ओर से दवा की फागिग नहीं अब तक नहीं कराया गया है। इससे लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। अगर नियमित ढंग से प्रत्येक वार्ड में शेड्यूल बनाकर फागिग कराई जाए, तभी मच्छरों से निजात मिल सकेगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस