जागरण संवाददाता, घोसी (मऊ) : नगर में आवागमन की राह में व्यवधान बने अतिक्रमण पर शुक्रवार की दोपहर को पुलिस और नगर पंचायत का डंडा चला। उपनिरीक्षक डीके त्रिपाठी भारी फोर्स के साथ उपस्थित रहे तो नगर पंचायत के अधिशासी अधिकारी विनीत कुमार के निर्देशन में सफाई कर्मचारियों की टीम ने पकड़ी मोड़ से तहसील के बीच अतिक्रमण हटाया।

दरअसल नगर में दुकानदार सड़क की पटरी को शोरूम के रूप में प्रयोग करते हैं। रही-सही कसर ठेला एवं खोमचा वाले पूरी कर देते हैं। दुकानों पर आने वाले ग्राहक भी बचे-खुचे स्थान पर अपना वाहन खड़ा कर देते हैं। स्थिति यह कि सड़क पर यदि दो बड़े वाहन आमने-सामने हो जाएं तो जाम लग जाता है। जिला प्रशासन ने इस समस्या को गंभीरता से लिया है तो प्रत्येक नगर में अतिक्रमण हटाओ अभियान चल रहा है। इस क्रम में पुलिस बल की उपस्थिति में नगर पंचायत कर्मचारी योगेश सिंह, रमाकांत, विमलेश और जेसीबी चालक विधाका ने सफाई कर्मचारियों इश्तेयाक, मुन्ना, मुकेश, चंदन, तलहा और हुरैरा आदि ने अतिक्रमण हटाया। अधिशासी अधिकारी ने कहा कि यह अभियान पूरे नगर में नियमित अंतराल पर चलाया जाएगा।

मरम्मत के अभाव में बाईपास मार्ग हुआ जर्जर

जागरण संवाददाता, मधुबन (मऊ) :

मधुबन बाजार में आंबेडकर तिराहे से दुबारी मोड़ तक मुख्य मार्ग अतिक्रमण के चलते सिकुड़ सा गया है। इस समस्या से निबटने के लिए अहिरौली से खीरीकोठा तक बना बाईपास मार्ग काफी सहायक साबित होता है। मगर उचित देखरेख और मरम्मत के अभाव में बाईपास मार्ग इस समय टूटकर गड्ढे में तब्दील हो गया है। इधर से होकर गुजरने में वाहनों के दुर्घटनाग्रस्त होने का अंदेशा बना रहता है। मार्ग के मरम्मत की मांग को लेकर क्षेत्रीय नागरिकों ने कई बार आवाज उठाई लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई।

Edited By: Jagran