जागरण संवाददाता, नौसेमरघाट (मऊ) : ओमिक्रोन के संक्रमण के खतरों को देखते हुए विकास खंड परदहा के खंड विकास अधिकारी धीरेश कुमार गुप्ता के निर्देशन में ब्लाक क्षेत्र के आधा दर्जन गांव में ग्राम प्रधानों ने मोर्चा संभाल लिया है। शुक्रवार को गांव के पंचायत भवन, आंगनबाड़ी केंद्र, प्राथमिक विद्यालय परिसर आदि सहित सार्वजनिक स्थलों पर सैनिटाइजिग एवं ब्लीचिग पाउडर का छिड़काव किया गया। शुक्रवार को ग्राम पंचायत बढुंआ गोदाम के प्रधान अरविद कुमार ने प्राथमिक विद्यालय, साधन सघन सहकारी समिति, पंचायत भवन, अनुसूचित बस्ती, शिव मंदिर, काली मंदिर, यादव बस्ती, डीह बाबा परिसर में छिड़काव कराया। एडीओ पंचायत श्रीकांत मिश्र ने कहा कि ब्लाक क्षेत्र के दर्जनभर गांव में हाइपोक्लोराइट दवा का छिड़काव तेजी से कराया जा रहा है। साथ ही साथ निगरानी समिति के सदस्यों द्वारा लोगों को संक्रमण से बचाव के लिए घर-घर टोली बनाकर जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। इसी तरह ब्लाक क्षेत्र के पनियारा, बरलाई, ताजोपुर, ताहिरपुर, भवनाथपुर, परदहां, कहिनौर, ठकुरमनपुर, पिजड़ा, सनेगपुर, वैजापुर, रकौली आदि गांवों में दवा का छिड़काव तेजी से कराया जा रहा है।

33 मिले संक्रमित, 11 स्वस्थ

जागरण संवाददाता, मऊ : कोविड-19 की जांच में शुक्रवार को एंटीजन और लैब से 2816 की जांच कराई गई। इसमें 33 लोग संक्रमित मिले, जबकि 11 लोग स्वस्थ हुए। अब जिले में कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 199 हो चुकी है। अभी 3364 की रिपोर्ट प्रतीक्षारत है। सीएमओ डा. एसएन दुबे ने बताया कि एंटीजन से 740 की जांच कराई गई। लैब से 2078 की रिपोर्ट प्राप्त हुई। इसमें एंटीजन से पांच, ट्रू नाट से चार और लैब की जांच में 24 संक्रमित मिले। बताया कि जनपद से अभी तक 3,74,933 का नमूना लैब भेजा गया है। 3,71,569 की रिपोर्ट प्राप्त हो चुकी है। 3,67,647 निगेटिव है। जांच में अब तक 8613 संक्रमित मिले हैं और 8334 रिकवर हो चुके हैं। संक्रमण से कुल 80 की मौत हुई है। एंटीजन टेस्ट के बाबत बताया कि 4,13,590 की जांच कराई गई है।

Edited By: Jagran