जागरण संवाददाता, थानीदास (मऊ) : घोसी तहसील क्षेत्र के हड़हुआ ग्रामसभा में बिना मुआवजा दिए किसानों की जमीन पर वाराणसी-गोरखपुर फोरलेन निर्माण कराए जाने से आक्रोशित किसानों ने रविवार को फोरलेन पर प्रदर्शन किया। किसानों ने कहा है कि बिना मुआवजा दिए ही प्रशासन से दबाव बनाकर एनएचएआइ काम कराना चाहती है।

हड़हुआ ग्रामसभा के पास बन रहे फोरलेन की एक पटरी पर निर्माण कार्य बाकी है। इसमें लगभग 120 किसानों की जमीन का अधिग्रहण किया गया है। इसे लेकर दो वर्षो से किसान मुआवजे का इंतजार कर रहे हैं। अधिग्रहित जमीन का संपूर्ण मुआवजा नहीं दिए जाने का आरोप लगाकर किसानों ने निर्माण कार्य रोक दिया है। किसानों ने बताया कि मुआवजे को लेकर जिलाधिकारी व न्यायालय के आदेश के बावजूद भी एनएचएआइ तय मुआवजा अभी तक नहीं दिया। इधर बिना मुआवजा दिए ही निर्माण कार्य शुरू कराने के लिए प्रशासनिक दबाव बनाया जा रहा है।

किसानों ने एनएचएआइ के विरुद्ध उच्च न्यायालय में मामला दाखिल भी किया गया है। जो अभी विचाराधीन है। आक्रोशित किसानों ने एक स्वर से कहा कि एनएचएआइ उच्च न्यायालय के फैसले तक इंतजार करे। अधिग्रहित जमीन का उचित मुआवजा नहीं मिलता है तो किसी भी कीमत पर निर्माण नहीं होने देंगे। प्रदर्शन करने वालों में रामाश्रय पांडेय, विजय पांडेय, चंद्रशेखर सिंह, प्रमोद सिंह, घुरहू पाल, विनोद पांडेय, बलजीत सिंह, बृजभूषण, रामशब्द आदि शामिल थे।

Edited By: Jagran