जागरण संवाददाता, पूराघाट (मऊ) : बाहा को अतिक्रमणमुक्त कराने को लेकर कोपागंज थाना क्षेत्र के देवकली विशुनपुर गांव के ग्रामीणों ने शनिवार को सदर एसडीएम को पत्रक सौंपा। कहा कि सरकारी बाहा को खोलवाकर सैकड़ों बीघा जलमग्न फसल से पानी निकलवाया जाए। ताकि आसानी से कटाई की जा सके।

ग्रामसभा डाड़ी होते हुए भुजौटी तक सरकारी बाहा दशकों पूर्व बना हुआ था। बाहा को डाड़ी ग्रामसभा में कुछ लोगों द्वारा पाट दिया गया है वही कब्जा भी कर लिया गया है। इससे किसानों के खेतों में जमा बरसात का पानी नहीं निकल पा रहा है। किसानों की धान की फसल तो डूब गई है वही गेहूं की बोआई पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। गांव निवासी ओमप्रकाश, हृदयनारायण, पुनीत, भरत, विनय, जितेंद्र, सीताराम, पन्नादेवी, लालता, अखिलेश कुमार, अनिरुद्ध, मोतीचंद सहित दर्जनों ग्रामीणों का कहना है कि बारिश के बाद से बाहा पर कब्जा करने वालों को खोलने के लिए कहा गया था, लेकिन कब्जा करने वाले बाज नहीं आ रहे हैं। किसानों का कहना है कि धन की फसल लगभग तैयार है लेकिन खेतों में पानी होने से कटाई नहीं हो पा रही है। यदि बाहा को खोल दिया जाए तो खेतों का पानी छोटी सरयू में चला जाएगा। इससे फसल की कटाई भी समय से हो जाएगी और गेहूं की बोआई भी। सदर एसडीएम ने ग्रामीणों की समस्याओं को देखते हुए आश्वस्त किया कि जल्द राजस्व विभाग की टीम मौके पर पहुंच समस्या का निराकरण कराएगी।

Edited By: Jagran