जासं, पलिगढ़ (मऊ) : शौचालय की एमआइएस फी¨डग व प्राप्त सूची में डबल व ट्रिपल नाम ग्राम पंचायतों के लिए सिरदर्द बने थे। अब उनके लिए राहत भरी खबर है। ऐसे ग्राम प्रधान अथवा सचिव सूची में दोबारा व कई बार आए हुए नामों को चिह्नित कर प्रार्थना पत्र के माध्यम से ब्लाक के एडीओ पंचायत के यहां जमा करेंगे। डीपीआरओ कार्यालय द्वारा उन नामों को हटा दिया जाएगा।

10 सितंबर को 'डबल नाम को लेकर ग्राम प्रधान परेशान' शीर्षक से जागरण में खबर प्रकाशित हुई। इसमें रानीपुर ब्लाक के ग्रामसभा हाजीपुर के ग्राम प्रधान ने शौचालय सूची में आए डबल नाम को लेकर अपनी असमर्थता जताई थी। उक्त समाचार को संज्ञान में लेते हुए जिला प्रशासन ने ऐसे लोगों को राहत दी है। जिला पंचायत राज अधिकारी शीतला प्रसाद ¨सह ने बताया कि ऐसे जो नाम हटाए जाएंगे बाद में उनके स्थान पर छूटे हुए पात्र लाभार्थी का चयन कर सूची में नाम अंकित किया जाएगा। इससे एमआइएस फी¨डग की संख्या में अंतर नहीं आएगा। उन्होंने कहा कि जिस ब्लाक के किसी ग्राम पंचायत की ऐसी समस्या है, वहां के ग्राम प्रधान व सचिव दो-चार दिन के अंदर एडीओ पंचायत से मिल कर समस्या हल करा लें, ताकि 02 अक्टूबर तक गांव को ओडीएफ किए जाने का लक्ष्य प्रभावित न हो।

Posted By: Jagran