जागरण संवाददाता, मऊ : शहर के सहादतपुरा में आजमगढ़ तिराहे से लेकर गाजीपुर तिराहे के बीच लगने वाला जाम कम होने का नाम नहीं ले रहा है। सड़क की चौड़ाई बढ़ने के साथ-साथ डिवाइडर का निर्माण लगभग पूरा हो गया है, लेकिन सोमवार को दो दिनों बाद सदर बाजार खुलते ही एक बार फिर जाम लग गया। वाहनों में बैठे-बैठे लोग हैरान-परेशान हो अकुलाने लगे। रह-रह कर पूरे दिन यही सिलसिला चलता रहा।

बाल निकेतन तिराहे से लेकर गाजीपुर तिराहे तक की सड़क जिले की सबसे व्यस्त सड़कों में शुमार है। आवागमन के लिए शहर एवं जिले की आबादी का सर्वाधिक दबाव इसी मार्ग पर रहता है। शहर के विभिन्न मोहल्लों के लो सुबह कचहरी, रेलवे स्टेशन, रोडवेज, स्कूल या अस्पताल जाने के लिए इसी मार्ग को चुनते हैं। कई बैंकों एवं शापिग मालों के इसी सड़क के किनारे होने से जिले भर के आगंतुकों एवं उनके वाहनों का दबाव इसी सड़क पर होता है, जो ठीक से नियंत्रित न हो तो जाम का सबब बन जाता है। सोमवार को जाम नियंत्रित करने के लिए यातायात पुलिस कर्मियों को काफी मशक्कत झेलनी पड़ी। हालांकि, डिवाइडर बनने के बाद लोगों को उम्मीद थी कि अब जाम की समस्या से निजात मिल जाएगी, लेकिन फिलहाल ऐसा होता नजर नहीं आ रहा है।

Edited By: Jagran