जागरण संवाददाता, मऊ : पूरे देश में केंद्र व प्रदेश की सरकार नफरत फैलाने में लगी है। इनकी गलत नीतियों के चलते जहां मुट्ठी भर लोगों को लाभ पहुंच रहा है वहीं देश के किसान, नौजवान व बुनकर बेहाल हैं। सीएए व एनआरसी के बवाल के नाम पर मासूम बच्चों को फंसाया जा रहा है। यह बातें शुक्रवार को नगर के बकवल स्थित ह्वाइट हाउस पर पूर्व केंद्रीय मंत्री स्व. कल्पनाथ राय की छोटी बेटी वैष्णवी राय ने पत्रकार वार्ता के दौरान कही।

वैष्णवी ने कहा कि मेरे पापा जब जिदा थे तब यहां कितना सुकून भरा जीवन लोग जीते थे। आज यहां शहर में चलने में भी डर लगता है। जिन प्रतिनिधियों को लिखने नहीं आता वह प्रदेश व देश का विकास क्या करेंगे। कहा कि मैं तीन दिनों से जनपद के विभिन्न क्षेत्रों में जाकर लोगों से मिली। उनसे विकास के बाबत पूछा कि किंतु किसी के चेहरे पर खुशहाली नहीं दिखी। यही नहीं शहर क्षेत्र में सीएए व एनआरसी के बवाल के नाम पर बेकसूर लोगों को फंसाया जा रहा है।

पत्रकारों के सवाल पर कहा कि आने ेवाले विधानसभा चुनाव में प्रत्याशी बनकर चुनाव लडूंगी। अभी मेरी उम्र 25 वर्ष है। संगठन व जनपद के लिए कुछ खास नहीं किया है। इसलिए उनकी प्राथमिकता चुनाव लड़ना नहीं बल्कि संगठन को मजबूत करना, कार्यकर्ताओं के दुख-सुख में खड़े होना है। केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार को बिना किसी भेदभाव के कोरोना वैक्सीन को आम जनता के लिए उपलब्ध कराना चाहिए ताकि महामारी का खतरा खत्म हो और जीवन पटरी पर लौट सके। इस अवसर पर बब्लू राय, ब्रह्मानंद पांडेय, अनिल जायसवाल उपस्थित रहे।

Edited By: Jagran

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट