जागरण संवाददाता, पूराघाट (मऊ) : विकास खंड कोपागंज अंतर्गत ब्लाक संसाधन केंद्र खुखुंदवा के सभागार में सोमवार को एक दिवसीय निपुण भारत मिशन अंतर्गत एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। इसमें स्कूल में प्रशिक्षित कक्षा एक को पढ़ाने वाले समस्त नोडल शिक्षक, स्कूल परिसर में संचालित आंगनबाड़ी केंद्रों की कार्यकर्ता और नोडल शिक्षक संकुल का उन्मुखीकरण किया गया।

बुनियादी साक्षरता के लिए लक्षित आयु वर्ग तीन से आठ को निर्धारित अधिगम स्तर प्राप्त कराने के उद्देश्य से शिक्षा मंत्रालय भारत सरकार द्वारा यह कार्यक्रम आरंभ किया गया है। राज्य द्वारा पूर्व प्राथमिक शिक्षा एवं बुनियादी शिक्षा के अधिगम की संप्रति सुनिश्चित करने के लिए बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग एवं बेसिक शिक्षा के मध्य समन्वय स्थापित करते हुए इस कार्यक्रम का संचालन किया जा रहा है। वर्ष 2021-22 में कक्षा एक के बच्चों को औपचारिक शिक्षा से जोड़ने के लिए विद्यालय तैयारी हेतु शिक्षकों को प्रशिक्षित किया जा रहा है। कार्यशाला में बेसिक शिक्षा विभाग और आंगनबाड़ी द्वारा आपसी समन्वय स्थापित करते हुए स्कूल की तैयारी पर विभिन्न गतिविधियां, टीएलएम व भावगीत प्रस्तुत किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ खंड शिक्षा अधिकारी अशोक कुमार गौतम ने किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि दोनों विभाग आपस में एक दूसरे का सहयोग करते हुए बच्चों की बुनियादी शिक्षा को बेहतर कर सकते हैं। राज्य संदर्भ समूह के सदस्य नोडल एसआरजी अरविद पांडेय ने पूरे कार्यक्रम की रूपरेखा प्रस्तुत करते हुए विद्यालय की तैयारी विषय पर विस्तार से प्रकाश डाला। इस अवसर पर रामनाथ उपाध्याय, एआरपी शैलेंद्र पांडेय, अरूण चंद्रा, वीणा सिंह, सरोज सिंह, रामकुवंर, शालिनी, गीता यादव आदि उपस्थित थीं।

Edited By: Jagran