जासं, मथुरा : स्कूल संचालकों की लापरवाही छात्र-छात्राओं के लिए भारी पड़ सकती है। 274 स्कूली वाहन बिना फिटनेस प्रमाण पत्र के सड़कों पर दौड़ रहे हैं। ऐसे वाहनों के खिलाफ कार्रवाई की तैयारी है।

हाल में ही तहसील स्तर पर कैंप लगाए गए थे। इन कैंपों पर 750 वाहनों ने फिटनेस प्रमाण पत्र लिया है। करीब 274 स्कूली वाहन ऐसे हैं, जिन्होंने फिटनेस प्रमाण पत्र नहीं लिया है। फिटनेस प्रमाण पत्र नहीं लेने वाले वाहन एआरटीओ विभाग की पकड़ में नहीं आए हैं। ऐसे वाहनों का पंजीकरण निलंबित कर कार्रवाई की तैयारी है। एआरटीओ प्रवर्तन मनोज मिश्रा ने बताया कि जिन वाहनों के स्वामियों ने फिटनेस प्रमाण पत्र नहीं लिया है, उनमें अधिकतर ग्रामीण क्षेत्र के स्कूल हैं। बिना फिटनेस प्रमाण पत्र के स्कूली वाहनों का पंजीकरण निलंबित कर कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस