संवाद सूत्र, सुरीर (मथुरा)। सोशल मीडिया पर प्रसिद्धि पाने को बनाया गया सांपों का वीडियो यू-ट्यूबर के लिए कानून का फंदा बन गया है। मांट क्षेत्र के गांव नगला सीरिया में एक कुएं में सांपों की लड़ाई और उनकी तस्वीरों को लेकर जारी किए गए वीडियो को लेकर दो यूट्यूबरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है।

सांपों की लड़ाई का वीडियो किया था डाउनलोड

जीव-जंतु और पर्यावरण बचाने का काम करने वाली टीम के सदस्य संदीप कुमार निवासी गांव खुशहुपुर थाना बक्सा जिला जौनपुर ने दर्ज कराई प्राथमिकी में आरोप लगाया है कि मांट क्षेत्र के गांव नगला सीरिया निवासी यूट्यूबर रवि ने तीन सितंबर को यूट्यूब पर एक वीडियो अपलोड किया था। इसमें गांव के ही एक कुएं से इस्पेक्टिकल कोबरा को रेस्क्यू करते हुए दिखाया गया था। इसके कुछ दिनों बाद इसी कुएं के अंदर से जौनपुर जिले के गांव बेलापुर (बक्सा) निवासी यूट्यूबर मुरलीधर यादव ने 13 सांपों को रेस्क्यू करने का एक वीडियो 31 अक्टूबर को यूट्यूब पर अपलोड किया था।

ये भी पढ़ें...

Lucknow Building Collapse: एक महीने पहले शाहिद मंजूर की बेटी ने खाली किया था फ्लैट, 2005 में बेचे थे 10 फ्लैट

कैसे गिर सकते हैं इतने सांप

आरोप है कि इतने कम अंतराल में एक ही कुएं में इतने सांप नहीं गिर सकते। वीडियो में 10 कामन करैत, दो इंडियन इस्पेक्टिकल कोबरा व एक धामण का रेस्क्यू दिखाया गया था। रेस्क्यू के दौरान दुर्लभ प्रजाति के एक सांप करैत की मृत्यु भी हो गई थी।

ये भी पढ़ें...

Bank Holidays In Agra: जल्दी निपटा लें काम, आगामी सात में दो दिन खुलेंगे बैंक, इन तारीखों को रहेगा अवकाश

इंस्पेक्टर प्रदीप यादव का कहना है कि प्रार्थना पत्र के आधार पर आरोपित यूट्यूबरों के खिलाफ वन्य जीव संरक्षण व पशु क्रूरता निवारण अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। 

Edited By: Abhishek Saxena

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट