जागरण संवाददाता मथुरा : प्राथमिक शिक्षक संघ ने शिक्षकों के समायोजन में मनमानी के खिलाफ मंगलवार को बीएसए कार्यालय पर प्रदर्शन किया। विरोध का बिगुल फूंकते हुए शिक्षकों ने बीएसए के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। एलान किया कि जब तक नियमानुसार समायोजन नहीं किया जाएगा, आंदोलन चलता रहेगा।

जिलाध्यक्ष राजेश शर्मा ने कहा कि जिलाधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी, शिक्षा निदेशक (बेसिक) को अवगत कराने के बाद भी समस्या का समाधान नहीं हुआ है। समायोजन सूची में भ्रष्टाचार किया गया है। जिला मंत्री मनोज रावत ने कहा कि नगर निगम के शिक्षकों को ग्रामीण क्षेत्र के विद्यालयों में समायोजन करना शिक्षकों के अधिकार का हनन है। उपाध्यक्ष विजय शर्मा ने कहा कि दिव्यांगों के प्रति संवेदनहीनता दिखाई गई है। महिला उपाध्यक्ष सुशीला चौधरी ने कहा कि महिलाओं को दूर और पुरुष शिक्षकों को नजदीक के स्कूलों में समायोजित करना महिलाओं के प्रति दुर्भावना प्रदर्शित करता है। अशोक सोलंकी ने कहा कि इस मामले में बीएसए की हठधर्मिता नहीं चलेगी, आंदोलन क्रमिक रूप से आगे बढ़ेगा। शूरवीर यादव ने इसे नियमों का उल्लंघन बताया। विजय चौधरी, रामबाबू ¨सह, महेश अग्रवाल, केके भारद्वाज, गुरुप्यारी सत्संगी, अर्चना यादव, शालिनी हरियाणा, गायत्री प्रजापति, विमलेश सारस्वत आदि ने भी विचार व्यक्त किए। कुलदीप सारस्वत, मुकुलकांत, शांतनु, मुकेश, मनोज, नरेंद्र ,कुलदीप, प्रेम किशोर, अंगूरी, सुधा, अजय आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran