जागरण संवाददाता, मथुरा : मंगलवार को भी कुछ लोगों ने मकर संक्रांति का पर्व मनाया। सुख-समृद्धि को तिल का सामान और गर्म वस्त्र दान किए गए । यमुना पूजन कर आस्था की डुबकी लगाई। मंदिरों में मकर संक्रांति का पर्व मंगलवार को मनाया जाएगा। ठाकुरजी को खिचड़ी और तिल का प्रसाद अर्पित किया जाएगा।

मकर संक्रांति को लेकर असमंजस की स्थिति है। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार मकर संक्रांति का त्योहार बुधवार को मनाया जाना है। सूर्य का मकर राशि में प्रवेश 14 जनवरी की रात दो बजे के बाद हो रहा है। इस कारण पुण्यकाल 15 जनवरी को सूर्योदय के बाद है। हालांकि कुछ लोगों ने मंगलवार को भी मकर संक्रांति का त्योहार मनाया है। सुबह पूजन किया और खिचड़ी, तिल का सामान दान किया। गर्म कपड़े भी दान किए गए। पूजन कर घर में सुख-समृद्धि की प्रार्थना की गई। सुबह से ही श्रद्धालु यमुना घाटों पर पहुंचने लगे। यमुना पूजन कर आस्था की डुबकी लगाई। सूर्य देवता से परिवार में सुख-समृद्धि की प्रार्थना की। यमुना घाट श्रद्धा से लबालब हो गए। गजक की दुकानों पर भी भीड़ लगी रही। जगह- जगह खिचड़ी प्रसाद वितरित किया गया। दिन भर आस्था की बयार बहती रही।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस