संवाद सहयोगी, वृंदावन: वृंदावन कोतवाली पुलिस सर्राफ अतुल अग्रवाल की मौत की गुत्थी सुलझाने के करीब पहुंच गई है। अब तक की जांच सर्राफ के खुदकुशी किए जाने की तरफ ही इशारा कर रही है। गुरुवार को पुलिस ने चामुंडा घाट के पास से सर्राफ का पैंट और एक चप्पल बरामद की। मोबाइल का अभी पता नहीं चल सका है।

बटाला कालोनी निवासी सर्राफ अतुल अग्रवाल का शव मंगलवार शाम को थाना रिफाइनरी क्षेत्र में यमुना स्थित कोयला घाटा पर मिला था। उनके सिर में चोट के निशान होने पर उनकी मौत की गुत्थी उलझ रही थी। सीओ सदर राम मोहन शर्मा ने कोतवाली प्रभारी निरीक्षक विनय मिश्रा के साथ मृतक अतुल अग्रवाल के स्वजन के साथ घर से लेकर चामुंडा घाट तक के सीसीटीवी फुटेज खंगाले। कई स्थानों पर अतुल अग्रवाल मोटरसाइकिल से अकेले ही जाते हुए दिखाई दे रहा है। पानी गांव मार्ग पर भी चढ़ते हुए सर्राफ अकेले ही नजर आ रहे हैं। जिस स्थान से पुलिस को पैंट और एक चप्पल मिली, वह दलदल है। दलदल में सर्राफ के घुसने के पैरों के भी निशान हैं। घाट के आसपास के लोगों ने पूछताछ पुलिस को यह भी जानकारी मिली, एक युवक मंगलवार को यमुना में खुद को बचाने को संघर्ष करते हुए देखा गया। पानी का बहाव अधिक होने के कारण बह गए। पुलिस की एक टीम गोकुल बैराज पर जांच के लिए पहुंची। पानी के बहाव को भी देखा गया। गोकुल बैराज के कर्मचारियों ने पुलिस को बताया, गेट तीन फीट खुले हुए हैं। पानी का बहाव यहां तेज है। बैराज के फाटक से टकरा भी अतुल अग्रवाल के सिर में चोट लग सकती है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी सर्राफ के पेट में पानी और कीचड़ मिला है। अभी तक पुलिस के हाथ ऐसा कोई साक्ष्य नहीं लगा है, जो सर्राफ की हत्या की तरफ इशारा कर रहा हो। एसपी सिटी एमपी सिंह ने बताया, सिर में चोट का निशान मिलने से पुलिस और सर्राफ के स्वजन को हत्या की आशंका थी। मगर, अभी तक जांच में सर्राफ की खुदकुशी किए जाने का मामला सामने आ रहा है।

Edited By: Jagran