मथुरा, जासं। पौधारोपण अभियान में पौधे रोपकर उनकी रखवाली करना छोड़ दिया। ऐसा ही ²श्य आजकल जिला अस्पताल में देखा जा रहा है। जहां वाहन पार्किंग किए जा रहे हैं, वहीं पौधे रोप दिए गए हैं। गत दिवस जिला अस्पताल के पार्क में पौधारोपण तो हुआ पर उनकी सुरक्षा के इंतजामात नहीं किए गए हैं। इधर, अस्पताल प्रशासन ने उसी के आधे हिस्से में दो पहिया वाहनों की पार्किंग बना दी है, जो पौधों की सुरक्षा के लिए खतरा है।

नौ अगस्त को पौधारोपण अभियान के तहत सीएमएस की अगुवाई में विभिन्न प्रजातियों के 296 पौधे रोपे गए और उनके संरक्षण का संकल्प लिया। अभियान पूरा होने के बाद पौधों की सुरक्षा की चिता अस्पताल प्रशासन ने राम भरोसे छोड़ दी। अस्पताल परिसर में बेतरतीब पार्किंग से निजात पाने के लिए पार्क के आधे हिस्से में दो पहिया वाहनों की पार्किंग बना दी। उसके बाद पौधों की सुरक्षा को खतरा पैदा हो गया है। पौधों की सुरक्षा के लिए अभी तक किसी तरह के इंतजाम अस्पताल प्रशासन द्वारा नहीं किए गए हैं। पार्किंग के अलावा अस्पताल में बंदरों का आतंक किसी से छुपा नहीं है। तब ऐसे में इन लगाए गए पौधों के अस्तित्व को बचाए रखने का सवाल खड़ा होना स्वाभाविक है। सीएमएस डॉ. आरएस मौर्य का कहना है कि पौधों की सुरक्षा पर ध्यान दिया जा रहा है। जल्द ही इनको सुरक्षित कर दिया जाएगा। परिसर में वाहन पार्किंग की समस्या है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप