संवाद सहयोगी, वृंदावन। गणतंत्र दिवस के साथ पड़ रही बसंत पंचमी पर ठा. बांकेबिहारी मंदिर में होली की शुरुआत होगी। ऐसे में देश दुनिया से लाखों श्रद्धालु वृंदावन में डेरा डालेंगे। शहर में यातायात व्यवस्था को दुरुस्त रखने के उद्देश्य से प्रशासन ने बुधवार शाम से शहर में चार पहिया छोटे-बड़े वाहनों की एंट्री पूरी तरह प्रतिबंधित कर दी गई है। ऐसे में श्रद्धालु अपने वाहनों को शहर के बाहर बनी पार्किंगों पर खड़ा करने के बाद ही शहर में एंट्री कर सकेंगे।

बसंत पंचमी से होली की शुरुआत

गणतंत्र दिवस पर गुरुवार को पड़ रही बसंत पंचमी पर ठाकुर बांकेबिहारीजी ब्रज में चालीस दिवसीय होली की शुरुआत करेंगे। इसके साथ ही शाहजी मंदिर में दो दिन वसंती कमरा खुलेगा, जो साल में दो बार ही दो-दो दिन के लिए खुलता है। तो देश के अनेक प्रांतों से लाखों श्रद्धालु वृंदावन में डेरा डालेंगे।

ये भी पढ़ें...

Lucknow Building Collapse: एक महीने पहले शाहिद मंजूर की बेटी ने खाली किया था फ्लैट, 2005 में बेचे थे 10 फ्लैट

यहां पार्किग में खड़े होंगे वाहन

  • छटीकरा से आने वाले वाहनों को वैष्णोदेवी मंदिर पार्किंग, रायल भारती मोड़, रुक्मिणी विहार की मल्टीलेवल पार्किंग पर खड़ा कराया जाएगा।
  • मथुरा से आने वाले वाहनों को सौ शैया तिराहा पर बनी पार्किंग, आइटीआइ पार्किंग में खड़ा कराया जाएगा।
  • यमुना एक्सप्रेस-वे से आने वाले वाहनों को दारुक पार्किंग, पर्यटक सुविधा केंद्र, उपमंडी समिति व शिवा ढाबा के सामने खाली पड़े भूखंड पर खड़ा कराया जाएगा।
  • पानीघाट तिराहे से सभी प्रकार के चार पहिया वाहन परिक्रमा मार्ग में प्रतिबंधित रहेंगे।
  • चामुंडा कट से के चार पहिया वाहन प्रतिबंधित रहेंगे।
  • कैलाश नगर मोड़ से सभी प्रकार के चार पहिया वाहन प्रतिबंधित रहेंगे।
  • सुनरख रोड की ओर से आने वाले चार पहिया वाहन सुनरख तिराहे, एनआरआइ ग्रीन के समीप बनी पार्किंग में खड़ा करवाया जाएगा। 

श्रद्धालुओं को वाहनों के जाम से राहत देने के लिए जिला प्रशासन ने वाहनों की एंट्री प्रतिबंधित करते हुए जगह-जगह पार्किंगों में वाहनों को खड़ा करवाने के निर्देश दिए हैं। यहां से श्रद्धालु ई-रिक्शा, आटो के जरिए गंतव्य तक पहुंचेंगे। स्थानीय वाहनों और इमरजेंसी वाहनों को प्रतिबंध से छूट रहेगी।

Edited By: Abhishek Saxena

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट