जासं, मथुरा: लोक सभा सामान्य निर्वाचन को निष्पक्ष रूप से संपन्न कराने के लिए जोनल, सेक्टर और मास्टर ट्रेनरों को ईवीएम और वीवीपैट के संबंध में गुरुवार को एक दिवसीय प्रशिक्षण किसान भवन वेटेरिनरी कॉलेज में आयोजित किया गया। इसमें राष्ट्रीय स्तर के प्रशिक्षक अतीक अहमद सिद्दीकी ने कहा कि ईवीएम पर शक करने की कोई गुंजाइश नहीं है। उन्होंने तकनीकी पहलुओं पर विस्तार से जानकारी देते हुए मतदान में प्रयोग के समय होने वाली सावधानियों के संबंध में अवगत कराया।

बताया कि इस बार प्रत्येक ईवीएम के साथ वीवीपैट मशीन लगाई जाएंगी, जिसमें वोट डालते समय मतदाता को डाले गए वोट की पर्ची सात सेकेंड तक दिखाई देने के बाद वीवीपैट के इनबॉक्स में ही गिर जाएगी, जिससे मतदाता को पूर्ण संतुष्टि रहेगी। उन्होंने बताया कि मतदान के समय बीप की आवाज से पता चलता है कि मतदान हो चुका है। इसी प्रकार ईवीएम और वीवीपैट मतदाता के लिए संतुष्टि का प्रतीक है, जिससे शक की कोई गुंजाइश नहीं रहती है। मतदान से पूर्व मॉक पोल के समय सभी उपस्थित कार्मिक और एजेंटों के हस्ताक्षर होना जरूरी है, जिससे निष्पक्षता बनी रहे। पोलिग पार्टियों को प्रशिक्षण में मास्टर ट्रेनरों को ईवीएम (कन्ट्रोल यूनिट, बैलेट यूनिट और वीवीपैट) के संचालन, सील करना, मॉकपोल, मतदान और विशेष परिस्थितियों में होने वाली कठिनाइयों के निस्तारण के संबंध में विस्तार से अवगत कराया।

----

-निर्वाचन कार्य में लापरवाही क्षम्य नहीं

जिला निर्वाचन अधिकारी सर्वज्ञराम मिश्र ने कहा कि निर्वाचन जैसे महत्वपूर्ण कार्यों में लापरवाही क्षम्य नहीं की जाएगी। उन्होंने

बताया कि पोलिग पार्टियों को बीएसए डिग्री कॉलेज में 24, 25 व 26 मार्च को प्रशिक्षण दिया जाएगा। एक दिवसीय प्रशिक्षण में उप जिला निर्वाचन अधिकारी,अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व बृजेश कुमार, अपर

जिलाधिकारी प्रशासन सतीश कुमार त्रिपाठी, नगर आयुक्त समीर वर्मा, सभी उप जिलाधिकारी, तहसीलदार, डायट प्राचार्य मुकेश अग्रवाल सहित मास्टर ट्रेनर उपस्थित रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप