जागरण संवाददाता, मथुरा: श्री गिर्राज बाबा सरस्वती उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में नौ फरवरी को इंटर गणित द्वितीय का पेपर लीक होने के मामले की जांच पूरी हो गई है। गुरुवार को एडीएम कानून-व्यवस्था ने अपनी जांच रिपोर्ट डीएम कार्यालय को भेज दी। इसमें स्टेटिक मजिस्ट्रेट और अतिरिक्त केंद्र व्यवस्थापक को भी दोषी पाया गया है। इधर, प्रशासन ने परीक्षा में नकल पर रोक लगाने की अपनी रणनीति में भी बदलाव किया है। अब स्टेटिक मजिस्ट्रेट प्रश्न पत्र को खुलवाने और उत्तर पुस्तिकाओं को सील कराकर अपने साथ परीक्षा केंद्र से लेकर आएंगे।

श्री गिर्राज बाबा सरस्वती उच्चतर माध्यमिक विद्यालय शाहपुर चेनपुर परीक्षा केंद्र पर नौ फरवरी को इंटरमीडिएट गणित का द्वितीय प्रश्नपत्र लीक हो गया था। केंद्र व्यवस्थापक विनोद कुमार, अतिरिक्त केंद्र व्यवस्था जितेंद्र ¨सह उपाध्याय और स्टेटिक मजिस्ट्रेट जेई ¨सचाई विभाग नरेंद्र कुमार ने पेपर इससे डीआइओएस अरुण कुमार दुबे को भी अवगत करा दिया था। दो दिन तक मामले को दबाए रखा, लेकिन चाणक्य युवा संगठन ने पेपर लीक होने का पर्दाफाश किया। इसके बाद दूसरा पेपर भेजा गया। केंद्र व्यवस्थापक के खिलाफ थाना मगोर्रा में रिपोर्ट दर्ज कराई गई। डीएम सर्वज्ञ राम मिश्र ने पूरे मामले की जांच एडीएम कानून-व्यवस्था रमेश चंद्र को सौंपी दी। एडीएम कानून व्यवस्था ने गुरुवार को अपनी जांच पूरी करके रिपोर्ट डीएम कार्यालय भेज दी। जांच में पाया गया कि ¨सचाई विभाग के जेई को प्रश्न पत्र दूर से दिखाया गया और उन्होंने प्रश्न पत्र का कोड और पेपर नहीं देखा। इसके बाद पेपर को खोल कर परीक्षार्थियों को बांट दिया गया। अतिरिक्त केंद्र व्यवस्थापक ने सात मिनट तक पेपर खुलने की वीडियोग्राफी कराई और पच्चीस मिनट तक वह केंद्र के बाहर की व्यवस्था देखते रहे। इस तरह परीक्षार्थियों के हाथ में करीब बत्तीस मिनट तक पेपर रहा। इसकी जानकारी हुई तो चुपचाप छात्रों से पेपर को वापस ले लिया गया और प्रथम प्रश्न पत्र खोलकर दुबारा बांटा गया। इसकी जानकारी डीआइओएस को दी गई। इसके बाद भी दो दिन तक मामले को दबा कर रखा गया था। इस मामले में अतिरिक्त केंद्र व्यवस्थापक और जेई को भी दोषी पाया गया।

इधर गुरुवार को प्रभारी डीएम पवन कुमार गंगवार ने सुपर जोन, जोन, सेक्टर मजिस्ट्रेट और स्टेटिक मजिस्ट्रेट की बुलाई गई बैठक में परीक्षाओं में की गई कार्रवाई की समीक्षा की। प्रभारी डीएम ने बताया कि नकल रोकने के लिए अब और सख्ती की गई है। अब स्टेटिक मजिस्ट्रेट बोर्ड परीक्षा में प्रश्न पत्र अपनी मौजूदगी में खुलवाकर का परीक्षा को संपन्न कराएंगे। इसके बाद उत्तर पुस्तिकाओं को सील कराकर अपने साथ लेकर आएंगे।

Posted By: Jagran