मथुरा: जनपद के थानों में तैनात प्रशिक्षु दरोगाओं को अब ड्यूटी के दौरान पिस्टल नहीं मिलेगी। प्रदेश में प्रशिक्षु दरोगाओं द्वारा पिस्टल के दुरुपयोग की कई घटनाओं को देखते हुए एसएसपी ने थाना प्रभारियों को इस बाबत दिशा-निर्देश दिए हैं। दरअसल पिछले दिनों नोएडा में एक प्रशिक्षु सब इंस्पेक्टर ने जिम ट्रेनर को गोली मार दी थी। परिजनों ने पुलिस पर फर्जी एनकाउंटर करने का आरोप लगाया था। इसके अलावा दूसरे जनपदों में भी प्रशिक्षु दरोगाओं द्वारा पिस्टल के दुरुपयोग किए जाने की घटनाएं प्रकाश में आईं हैं। एसएसपी स्वप्निल ममगाई ने थाना प्रभारियों को भेजे पत्र में कहा है कि थानों पर नियुक्त प्रशिक्षु उपनिरीक्षक एवं आरक्षी को ड्यूटी के दौरान दी जा रही सरकारी पिस्टल आदि असलाह के दुरुपयोग किए जाने की आशंका बनी रहती है। अन्य जनपदों में प्रशिक्षु उपनिरीक्षक एवं आरक्षियों द्वारा सरकारी पिस्टल का दुरुपयोग किए जाने की घटना प्रकाश में आई हैं। उन्होंने निर्देशित किया है कि प्रशिक्षण अवधि के दौरान प्रशिक्षु उपनिरीक्षक एवं आरक्षियों को ड्यूटी के दौरान सरकारी पिस्टल आदि असलाह प्रदान न किए जाएं।

By Jagran