जागरण संवाददाता, मथुरा: आगरा से डीगगेट स्थित रेस्टोरेंट के लिए आ रहा मांस ¨हदूवादी नेताओं ने पकड़ कर पुलिस के सुपुर्द कर दिया। मांस पकड़े जाने से एक समुदाय के लोग एकत्रित हो गए और बदनाम करने का आरोप लगाने लगे। पुलिस ने बिल देखने के बाद मांस को रेस्टोरेंट मालिक के सुपुर्द कर दिया। नमूने लेकर जांच के लिए वेटरिनरी कॉलेज भेजे गए हैं।

सोमवार की दोपहर ढाई बजे के करीब टेंपो चालक इमरान दरेसी रोड स्थित ताज और मजीद रेस्टोरेंट के लिए आगरा छलेसर स्थित आधुनिक पशुवध शाला से मांस लेकर आ रहा था। टेंपो में करीब 150 कुंतल भैंस का मांस था। दोपहर को नए बस स्टैंड के निकट ¨हदू हेल्पलाइन के प्रांतीय संयोजक प्रेम ¨सह को टेंपो में अवैध मांस की सूचना मिली। उन्होंने टेंपो को भूतेश्वर पर रुकवाकर पुलिस को सूचना दे दी। टेंपों को पकड़े जाने पर एक समुदाय के लोग आक्रोशित होने लगे, आरोप था कि मांस बिल पर मंगाया गया है। इसके बाद भी उनको परेशान किया जा रहा है। टेंपो चालक के साथ मारपीट करने का भी आरोप लगाया गया। स्थिति को भांप पुलिस मौके पर पहुंच गई और टेंपो को कब्जे में ले लिया। मांस के कागज देखने के बाद टेंपो को छोड़ दिया गया। कोतवाली प्रभारी एसपी ¨सह ने बताया कि मांस के नमूने जांच के लिए वेटरिनरी कॉलेज भेजे गए हैं।

By Jagran