मथुरा, जासं। जिले के प्रभारी मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि प्रदेश सरकार किसानों की समस्याओं के समाधान पर विशेष ध्यान दे रही है। नहरों में टेल तक पानी पहुंचाने, किसानों को बीज-खाद समय से उपलब्ध कराने, निराश्रित गोवंश को गोशालाओं में पहुंचाने का कार्य सरकार की प्राथमिकता में है। उन्होंने सड़क, बिजली, पानी से संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्रत्येक दशा में सड़कें गड्ढा मुक्त हों। सड़क निर्माण में खराब कार्य करने वाले ठेकेदारों को ब्लैकलिस्ट करें, ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र में मानक के अनुसार विद्युत आपूर्ति दी जाए तथा ग्रामीण क्षेत्रों में पाइप लाइन द्वारा पानी उपलब्ध कराया जाये।

प्रदेश के पंचायती राज/प्रभारी मंत्री भूपेंद्र सिंह चौधरी कलक्ट्रेट सभागार में जिला योजना की समीक्षा बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने स्वच्छ भारत अभियान के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में बनाये गये शौचालयों की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि निगरानी समितियां इस बात का ध्यान रखें की जहां शौचालयों का निर्माण हो गया है उनका प्रयोग हो रहा है या नहीं। कहा कि महिला सुरक्षा का विशेष ध्यान रखा जाए। महिलाओं की शिकायतों को प्राथमिकता के आधार पर निस्तारण किया जाए और ग‌र्ल्स कॉलेजों के बाहर एंटी रोमियो दस्ते को प्रभावी बनाया जाये। यातायात की स्थिति को और सुचारू बनाएं जिससे जाम की स्थिति उत्पन्न न हो। श्रम विभाग अधिकारियों को निर्देश दिये कि छूटे हुए मजदूरों का पंजीकरण कराएं जिससे उन्हें योजनाओं से लाभान्वित किया जा सके। बैठक में विधायक बलदइेव पूरन प्रकाश, गोवर्धन ठा. कारिन्दा सिंह, राजेश चौधरी, सीडीओ रामनेवास, एडीएम वित्त ब्रजेश कुमार, एसपी देहात आदित्य कुमार शुक्ला, डीडीओ रवि किशोर त्रिवेदी आदि मौजूद रहे। ताकि अफसर रहें अपडेट:-कहा कि मुख्यमंत्री के प्राथमिकता वाले बिन्दुओं पर प्रत्येक माह समीक्षा बैठक की जाये, जिससे अधिकारी अपडेट रहें कि प्रति माह कितना कार्य किया गया है। समाज कल्याण अधिकारी को निर्देशित किया कि पात्र व्यक्तियों को वृद्धावस्था, विधवा, दिव्यांगजन पेंशन से लाभान्वित किया जाये। विधायक ने की शिकायत:-बैठक में विधायक बलदेव और विधायक गोवर्धन द्वारा चिकित्सा संबंधी समस्या उठाई। जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिये कि सभी सीएचसी की व्यवस्था एवं कार्यों की प्रगति को दस दिन के भीतर सुधार लें अन्यथा उनके खिलाफ कार्यवाही अमल में लायी जाएगी। अनुपस्थित पर कार्रवाई:-बैठक में भूमि संरक्षण अधिकारी मौजूद नहीं थे। उनकी अनुपस्थित पर प्रभारी मंत्री ने नाराजगी जाहिर करते हुए जिलाधिकारी को निर्देश दिए कि अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई कर शासन को अवगत कराया जाये। शिक्षा का स्तर सुधारें:-जिलाधिकारी सर्वज्ञराम मिश्र ने कहा कि विद्यालयों में शिक्षा के स्तर को ऊंचा उठाया जाये। शिक्षकों को गुणवत्ता युक्त शिक्षा देने के लिए उन्हें प्रशिक्षित किया जाये तथा उनकी क्वालिटी परीक्षा कराई जाये। बीएसए को आदेशित किया कि स्कूलों में पुस्तक एवं ड्रेस वितरण करते समय जनप्रतिनिधियों को बुलाया जाए।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप