मथुरा, जासं। कोतवाली क्षेत्र की जनकपुरी कॉलोनी में सोमवार करीब साढ़े ग्यारह बजे पड़ोसी कॉलोनी कांतापुरी के एक युवक ने अपने तीन साथियों के साथ दंपती पर कातिलाना हमला किया। दोनों पर धारदार हथियारों से ताबड़तोड़ प्रहार किए और छत के रास्ते भाग गए। दिनदहाड़े हुए सनसनीखेज वारदात से इलाके में दहशत का माहौल हो गया। पुलिस ने एक आरोपित के पिता को हिरासत में ले लिया है। देररात हमलावर के सीसीटीवी फुटेज का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

जनकपुरी कॉलोनी निवासी केशवदेव शर्मा के पुत्र विजय शर्मा के मकान में ही सर्राफ की दुकान है। करीब साढ़े ग्यारह बजे विजय शर्मा के यहां पड़ोसी कॉलोनी कांतापुरी निवासी प्रेम गौतम विजय के यहां पहुंचा और गहने दिखाने के लिए कहा। विजय शर्मा काउंटर पर खड़े होकर प्रेम गौतम को सामान दिखा रहे थे। तभी प्रेम गौतम ने पीछे से चाकू निकाला और गला रेतने के मकसद से सीधा गले पर प्रहार किया। विजय ने इसका यह कहते हुए विरोध किया, मार कितना मारेगा। तभी आरोपित ने विजय पर ताबड़तोड़ चाकू से प्रहार करना शुरू कर दिया। विजय खुद को बचाने का प्रयास करता रहा और बाहर की तरफ बरामदा में आ गया। चीख सुनकर की पत्नी रेनू शर्मा भी आ गई। तभी तीन युवक भी अंदर आ गए और दोनों पर धारदार हथियार से प्रहार करना शुरू कर दिया। लहूलुहान हुए दंपती चीखने लगे तो आरोपित छत के रास्ते चढ़कर पीछे की गली कूदकर भाग गए। घर में खून ही खून बिखर गया और आसपास के लोग आ गए। विजय ने आरोपित का नाम भीड़ को बता दिया और बेहोश होकर वही गिर गया। सूचना पर पहुंची यूपी 100 डायल घायल दंपती को लेकर जिला अस्पताल पहुंची, लेकिन हालत गंभीर होने पर दोनों को नयति अस्पताल रेफर कर दिया। सीओ सिटी राकेश कुमार और कोतवाल अवधेश कुमार सिंह भी फोर्स के साथ घटना स्थल पर पहुंच गए। पुलिस ने साक्ष्य एकत्र किए जाने के मकसद से मकान का अंदर से ताला लगा दिया। घायल ने पुलिस को बताया कि हमला प्रेम गौतम ने अपने साथियों के साथ किया। पुलिस ने प्रेम गौतम के यहां दबिश दी, लेकिन वह फरार हो गया। आरोपित के पिता नत्थीलाल को हिरासत में ले लिया गया है। सीओ सिटी ने बताया कि घटना के पीछे लेनदेन और रंजिश का मामला प्रारंभिक जांच में निकल कर आया है, लूटपाट होने से उन्होंने इन्कार किया। कोतवाल ने बताया कि प्रेमप्रकाश समेत दो अन्य के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई। इसमें लूट का प्रयास बताया गया है। दोनों थे घर पर: जिस समय दंपती पर कातिलाना हमला हुआ, उस समय दोनों ही घर पर थे। विजय शर्मा के पुत्र देव, पुत्री साइना और छोटा बेटा वंश स्कूल गए थे। मां इंद्र अपने अन्य परिजनों के साथ दूसरे मकान पर थी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस