संवाद सूत्र, नौहझील(मथुरा) : नौहझील से नौ दिन पहले लापता हुए स्पेयर पा‌र्ट्स कारोबारी का शव गुरुवार को गांव बरौठ के निकट यमुना के बीच टापू पर मिला। प्रारंभिक जांच में पुलिस लेनदेन के मामले को लेकर कारोबारी द्वारा खुदकुशी किए जाने की आशंका व्यक्त कर रही है। हालांकि लापता होने के बाद शेरगढ़ यमुना पुल के ऊपर कारोबारी का मोबाइल और चप्पल मिली थी।

नौहझील के आदर्श नगर निवासी गोपाल प्रसाद अग्रवाल चार पहिया वाहनों के स्पेयर पा‌र्ट्स का कारोबार करते हैं। कस्बे में उनकी प्रमुख दुकान है। 18 नवंबर को गोपाल प्रसाद अचानक लापता हो गए थे। स्वजन ने उनकी तलाश की। उसी दिन गोपाल प्रसाद अग्रवाल का मोबाइल और चप्पल यमुना नदी के शेरगढ़ पुल पर मिले थे। दूसरे दिन स्वजन ने कारोबारी के लापता होने की रिपोर्ट थाना नौहझील में दर्ज कराई। पुलिस को कारोबारी की अंतिम लोकेशन भी यमुना नदी के शेरगढ़ पुल पर मिली थी। 20 नवंबर को पुलिस ने कारोबारी के यमुना में कूदकर खुदकुशी करने की आशंका के मद्देनजर फ्लड पीएसी के साथ यमुना में कारोबारी की तलाश कराई, लेकिन कोई सफलता नहीं मिली। गुरुवार को गांव बरौठ खादर स्थित यमुना के बीच टापू पर एक शव पड़े होने की सूचना पर सीओ मांट एनपी सिंह पुलिस फोर्स के साथ पहुंचे। गोपाल प्रसाद अग्रवाल के स्वजन भी पहुंच गए। सड़-गल जाने से शव की पहचान स्वजन ने कपड़ों से गोपाल प्रसाद अग्रवाल के रूप में की। सीओ मांट ने बताया, प्रारंभिक जांच में कारोबारी द्वारा खुदकुशी किए जाने का मामला लग रहा है। इसके पीछे लेन-देन के कारण बताया जा रहा है। उन्होंने बताया, अभी कारोबारी के स्वजन से पूछताछ नहीं हो सकी है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से मौत के कारण स्पष्ट हो पाएंगे।

Edited By: Jagran