मथुरा: बार एसोसिएशन ने मोटर एक्सीडेंट क्लेम ट्रिब्यूनल को जिला मुख्यालय से दूर हाईवे के निकट इन्द्रप्रस्थ कॉलोनी में बनाए जाने का विरोध किया है। जिलाधिकारी और जिला जज को सौंपे ज्ञापन में क्लेम ट्रिब्यूनल न्यायालय कलक्ट्रेट परिसर में बनाए जाने की मांग की है।

बार एसोसिएशन के सचिव विशाल सिंह के नेतृत्व में मिले अधिवक्ताओं ने ज्ञापन में कहा है कि मोटर एक्सीडेंट से संबंधित केसों में वादी एवं प्रतिवादी की ओर से अधिवक्ता वकालत करते हैं। यदि क्लेम ट्रिब्यूनल कचहरी से सात-आठ किमी दूर बनाया जाता है तो उनका काम प्रभावित होगा और वादकारियों का भी अहित होगा। अधिवक्ताओं ने कलक्ट्रेट में रिक्त पड़े जिलाधिकारी न्यायालय, एडीएम प्रशासन एवं वित्त के कार्यालयों, नगर मजिस्ट्रेट के पुराने कार्यालय, उपजिलाधिकारी सदर न्यायालय के अलावा जिला न्यायालय में रिक्त सेन्ट्रल हॉल के ऊपर रिक्त पड़े कोर्ट रूम में क्लेम ट्रिब्यूनल खोलने की मांग की है।

एडीएम प्रशासन सतीश कुमार त्रिपाठी ने अधिवक्ताओं को आश्वासन दिया कि लोस चुनाव के बाद इस संबंध में डीएम से वार्ता कर ट्रिब्यूनल स्थापित कराए जाने का प्रयास किया जाएगा। ज्ञापन देने वालों में ओमवीर सारस्वत, गिर्राज सिंह सिसौदिया, ब्रजेश शर्मा, रामवीर सिंह, धीरज गोस्वामी, दीपक अग्रवाल, अरविद गौतम, शैलेन्द्र सिंह, रामवीर यादव, रघुनाथ सिंह राजावत, सतीश गौतम, नरेन्द्र कुमार शर्मा, योगेश शर्मा, सुधीर शर्मा, हाकिम सिंह सिसौदिया, प्रनत शर्मा, राजेश चतुर्वेदी, दिनेश शर्मा, महावीर सिंह, सतीश प्रसाद शर्मा, प्रेम कुमार पचौरी, दीनदयाल पचौरी, रीतेश सारस्वत आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran