जागरण संवाददाता, मथुरा: उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य रविवार को जिले में विकास कार्यों की समीक्षा के दौरान खुश नजर आए तो अपने ही विभाग के अफसरों की लापरवाही पर लाल-पीले भी खूब हुए। जिले को दो नई सौगात दे गए तो यमुना पुल के क्षतिग्रस्त होने पर तत्कालीन अफसरों पर कार्रवाई के निर्देश भी दिए। राजनीतिक सवालों का जवाब भी खूब दिया, दिग्गी राजा से लेकर शबाना आजमी तक पर तंज कसा। कहा कि राम मंदिर तो बनकर रहेगा।

लोक निर्माण भवन के गेस्ट हाउस में छह करोड़ 90 लाख की 18 परियोजनाओं (40 किमी सड़क) का लोकार्पण और शिलान्यास करने के बाद पत्रकार वार्ता में डिप्टी सीएम ने बताया कि यमुना एक्सप्रेस वे पर कट से पागल बाबा मंदिर तक यमुना पर पुल और फोरलेन की डीपीआर बनाने के आदेश दिए गए हैं। गोवर्धन से बरसाना तक बनने वाले फोरलेन के प्रस्ताव को भी स्वीकृति प्रदान की गई है। मथुरा-गोवर्धन और कोसी-बरसाना सड़क की आपत्तियों का समाधान निकाल लिया गया है। कहा कि गांव और शहर में बेहतर सड़कें बनाई जा रही हैं। जल निगम, सिचाई विभाग और लोनिवि आपस में समन्वय से सड़क निर्माण पर कार्य करेंगे। इससे कहीं जलभराव न हो और सड़कें न टूटें। यमुना पर नए पुल के क्षतिग्रस्त होने पर उन्होंने तत्कालीन परियोजना के चीफ और प्रोजेक्ट मैनेजर पर कार्रवाई के आदेश दिए। योजनाओं के एनजीटी और कोर्ट में फंसने पर डिप्टी सीएम ने कहा कि किसी को उजाड़ना हमारा लक्ष्य नहीं होता है, एनजीटी और कोर्ट के निर्देशों के चलते दिक्कतें आ जाती हैं। किसी परियोजना में धन की कमी आड़े नहीं आने दी जाएगी।

मॉब लिचिग और बोलने की अभिव्यक्ति पर दिग्विजय सिंह और शबाना आजमी के बयानों पर उन्होंने कहा कि जिसे देश की जनता ने जनादेश दिया हो, उन्हें कुछ भी बोलने से पहले सोचना चाहिए। दिग्विजय सिंह यदि अब भी जनादेश नहीं समझे हैं तो अगली बार फिर जनता समझा देगी। उन्हें तो मिर्ची हवन कराना चाहिए। पिछड़ी जातियों को आरक्षण के सवाल पर कहा कि यह मामला कोर्ट में विचाराधीन है। राम मंदिर निर्माण पर कहा कि मंदिर तो बनकर रहेगा। सांसद कठेरिया के मारपीट संबंधी सवाल को यह कहकर टाल गए कि कानून अपना काम करेगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस