जागरण संवाददाता, मथुरा : 57 दिन के लंबे लॉकडाउन के बाद गुरुवार को बाजार खुले तो पहले दिन ग्राहक कम आए और दोपहर में बाजार ऊंघता रहा। इसके बाद ग्राहक खरीदारी करने के लिए नहीं निकले। सुबह किराना की दुकानों पर जरूर कुछ ग्राहक जरूरत का सामान खरीदने के लिए लाइन में लगे थे। कूलर और फ्रिज विक्रेता ग्राहक आने की राह ताकते रह गए। कपड़ों के बाजार में उदासी छाई रही। मिठाई और रेस्टोरेंट की साफ-सफाई करने में भी पहला दिन निकल गया।

लॉकडाउन के पहले दिन कृष्णानगर, राधानगर, जन्मस्थान, डीगगेट, जन्मभूमि लिक रोड, आगरा रोड, भरतपुर गेट, जंक्शन रोड, डैंपियर नगर, चौकी बाग बहादुर, कोतवाली रोड और वृंदावन के बाजार को खोलने ही मंजूरी प्रशासन ने दी थी। सुबह नौ बजे दुकान खोलने के लिए दुकानदार पहुंचे। दुकान की सफाई कर पूजा-अर्चना कर अपना कारोबार शुरू किया। इसी बीच पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी भी बाजार में पहुंच गए। दुकानदारों को हिदायत दी गई कि वह मास्क और ग्लब्स लगाकर ही बिक्री करें और दुकान के आगे छह-छह फीट की दूरी पर गोले बनाने में ही एक डेढ़ घंटे का समय गुजर गया। इधर सूर्यदेव के तेवर भी तीखे हो गए। पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी भी बाजार में भ्रमण करने के लिए निकल पड़े। शारीरिक दूरी बनाए रखने को लेकर पुलिस सख्त बनी रही और लाउडस्पीकर से लोगों को हिदायत देती रही। बाजार में पहले दिन ग्राहक कम ही निकले। किराना की दुकानों पर लोग दाल, आटा, नमक, ठंडाई समेत मसाले खरीद कर ले गए।

कपड़ा बाजार रहा उदास :

आगरा रोड, सेठबाड़ा, दलपत खिड़की और कृष्णा नगर में कपड़े का बड़ा बाजार है। यहां रेडीमेड के भी दो दर्जन से अधिक शोरूम हैं। पहले दिन शोरूम पर कपड़े खरीदने के लिए लोग नहीं आए। छोटी दुकानों पर जरूर लोग अंडर गारमेंट्स खरीदते दिखे। गमछा की मांग पहले दिन खूब रही। कपड़ा व्यापारी शंकरलाल ने बताया कि सुबह से लेकर शाम हो गई बोहनी तक नहीं हुई। कृष्णा नगर के रेडीमेड कपड़ा विक्रेता कैलाशचंद ने बताया कि दुकान खुलकर दिन भर बैठे रहे, लेकिन एक ग्राहक ही कपड़े खरीदने आया। कूलर, फ्रिज भी नहीं बिके : इलेक्ट्रॉनिक बाजार में ग्राहक नहीं पहुंचे। आगरा रोड होली गेट पर इलेक्ट्रॉनिक वस्तुओं के विक्रेता डॉ. विशाल खुराना बॉबी ने बताया कि आज पहला दिन था। एक सप्ताह में इलेक्ट्रॉनिक बाजार में गर्मी आएगी। इन दिनों कूलर और फ्रिज की अधिक बिक्री होती है। पहला दिन होने के कारण लोग बाजार का रुख ही देखा, लेकिन खरीदारी के लिए नहीं आए।

सफाई में गुजरा दिन : होम डिलीवरी करने के लिए रेस्टोरेंट और मिठाई की दुकानों को खोलने की मंजूरी दी गई है। बाजार में पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों की मौजूदगी रहने के कारण शहर की प्रमुख एक दर्जन मिठाई की दुकानों होम डिलीवरी करने के लिए खुली, लेकिन पूरा दिन दुकानों की साफ सफाई करने में ही बीत गया। रेस्टोरेंट का संचालकों का भी यही हाल रहा। इनके सामने कारीगर की दिक्कत रही। लॉक डाउन होने के कारण दूसरे जिलों से कारीगर नहीं आ सके। इसलिए रेस्टोरेंट पूरी तरह नहीं खुल पाए। ठंडा रहा ऑटो बाजार : पंजाबीपेच में ऑटो पा‌र्ट्स की अधिक दुकानें हैं। इन पर भी मिस्त्री बहुत कम आए थे। कुछ लोग ही अपने वाहनों की मरम्मत करने के लिए यहां आए। जिस इलाके को आज खोला गया, वहां ऑटो शोरूम नहीं हैं। पुलिस का मार्च : बाजार खोलने के लिए लागू की गई शर्तों का कोई उल्लंघन न करे, इसको लेकर एसपी सिटी अशोक कुमार मीणा, सीओ सिटी आलोक दुबे की अगुवाई में पुलिस ने शहर के कोतवाली रोड पर पैदल मार्च किया। यहां नहीं आए ग्राहक : वृंदावन में बाजार पूरी तरह से नहीं खुले। करीब दो महीने बाद बाजार में दुकानें खुलीं। लोग बहुत कम संख्या ही खरीदारी के निकले। ठा. बांकेबिहारी मंदिर के आसपास की दुकानें थोड़ी देर के लिए खुली और फिर बंद हो गई। श्रृंगार-मुकुट, पोशाक, चाट, नाश्ता, लस्सी की ही दुकानें अधिक हैं। यहां कोई ग्राहक ही नहीं पहुंचा। मांट में सुबह आठ से दोपहर

तीन बजे तक खुलेगा बाजार

एसडीएम मांट कृष्णानंद तिवारी ने सुबह आठ बजे से लेकर दोपहर तीन बजे तक बाजार खोलने के लिए ही छूट दी है। मंगलवार को साप्ताहिक बंदी रहेगी। पहले यह सुबह आठ से दोपहर एक बजे तक खुल रही थी। देहात में पूजा स्थल, धार्मिक, सामाजिक एवं सांस्कृतिक और राजनीतिक कार्यक्रम पर प्रतिबंध रहेगा। सैलून, ब्यूटी पार्लर और पूड़ी, कचौड़ी व समोसा की दुकानें नहीं खुलेंगी। पूरी सतर्कता से खुला बाजार : कोसीकलां के हॉट स्पॉट एरिया को छोड़कर अन्य बाजार पूरी सतर्कता के साथ खुले। शारीरिक दूरी का खरीदार और दुकानदारों ने पूरा ख्याल भी रखा, लेकिन बैंकों के सामने इसका उल्लंघन होता नजर आया। खरीदारी करने के लिए आए लोग मास्क नहीं लगाए हुए थे। इसलिए उनको दुकानदारों ने मास्क लगाने के लिए भी कहते हुए सुना गया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस