संवाद सूत्र, मथुरा : पंजाब पुलिस ने शहर के एक दवा कारोबारी के घर दबिश दी। आरोपित वहां से भाग निकला। पुलिस हाथ मलती रह गई। पंजाब पुलिस को खाली हाथ ही लौटना पड़ा। कार्रवाई से दवा कारोबारियों में खलबली मच गई।

पंजाब के बरनाला की पुलिस शुक्रवार दोपहर कोसीकलां के मुहल्ला निकासा में दवा कारोबारी व आरए इंटर प्राइजेज के संचालक इमरान के घर पर पर दबिश दी। उनके साथ स्थानीय पुलिस भी थी। लेकिन हैरानी की बात यह है कि दोनों पुलिस की घेराबंदी के बाद भी आरोपित दवा कारोबारी इमरान वहां कूदकर भाग निकला।

पुलिस के अनुसार, पंजाब के बरसाना की सीआइए टीम सब इंस्पेक्टर शरीफ खान के नेतृत्व में कोसीकलां पहुंची थी। यहां उन्होंने स्थानीय पुलिस का सहयोग लिया और मुहल्ला निकासा स्थित राठौर नगर इलाके में दवा कारोबारी के घर को घेर लिया। लेकिन जब तक पुलिस ने घेराबंदी की, आरोपित वहां से निकल भागा। मामले को लेकर पंजाब पुलिस ने किसी भी प्रकार की जानकारी देने से इन्कार कर दिया। उधर, थाना पुलिस कार्यालय द्वारा बताया गया कि पुलिस

एनडीपीएस के मामले में वांछित चल रहे इमरान की तलाश में यहां आई थी।

टीम को देख अन्य दवा कारोबारी अपने प्रतिष्ठानों को बंद कर चले गए।

बाकलपुर में मरा एक मोर, ग्रामीणों में दहशत : मोरों के मरने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। लगातार पांच दिन में छह मोरों की मौत हो गई है। इससे ग्रामीण क्षेत्रों में बर्ड फ्लू को लेकर दहशत फैल गई है। क्योंकि पांच दिनों में छह मोरों की मौत हो गई है। इससे वन और पशु चिकित्सकों के बीच अफरा-तफरी मच गई है।

शुक्रवार को बाकलपुर गांव में एक मोर के करने की खबर क्षेत्र में आग की तरफ फैल गई। इसकी जानकारी होने पर वन और पशु चिकित्सकों की टीम मौके पर पहुंची। चिकित्सक ने मोर का पोस्टमार्टम किया। इससे पहले हथियाबली गांव में चार मोरों की मौत हो चुकी है। वहीं एक पिपरौठ गांव में एक मोर की मौत हो चुकी है। चिकित्सक डा. जितेंद्र सिंह ने बताया कि मोर का पोस्टमार्टम कराने के बाद नमूना वृंदावन लैब में भेजा है, जिससे मोरों की मौत का कारण स्पष्ट हो सकेगा।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021