संवाद सहयोगी, मथुरा : भगवान श्रीकृष्ण की नगरी बुधवार को रामनवमी पर मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम के रंग में रंग गई। मंदिरों में भगवान का जन्मोत्सव मनाया गया। भगवान का अभिषेक और श्रृंगार किया गया। कान्हा की नगरी में रामलला का जयघोष गूंजा। श्रीकृष्ण जन्मस्थान पर ठाकुर केशव देव ने राम के रूप में दर्शन दिए।

श्रीकृष्ण जन्मस्थान परिसर स्थित श्रीराम मंदिर में श्रीरामचरित मानस के नौ दिवसीय नवान्हपरायण का समापन हुआ। मंदिर में श्रीगणेश, श्रीनवग्रह पूजन किया। भगवान श्रीराम की प्राकट्य आरती की। दोपहर 12 बजे श्रीराम का पंचामृत अभिषेक हुआ। मंत्रों, घंटे, घड़ियाल, शंख ध्वनि से वातावरण गूंज उठा। पंचामृत व प्रसाद का वितरण किया गया। अयोध्या में राम मंदिर निर्माण शुरू होने पर विशेष श्रृंगार, फूलबंगला सजाया गया। श्रीराम, माता जानकी के श्रीविग्रह श्रद्धालुओं को दिव्य दर्शन का आभास करा रहे थे। प्रबंध समिति के सदस्य गोपेश्वरनाथ चतुर्वेदी, विशेष कार्याधिकारी विजय बहादुर सिंह मौजूद रहे। यहां केशवदेव मंदिर में ठाकुर केशवदेव ने धनुष बाण थाम राम के रूप में श्रद्धालुओं को दर्शन दिए। द्वारकाधीश मंदिर में सुबह मंगला दर्शन में ठाकुर जी का अभिषेक किया गया। राजभोग दर्शन में ठाकुरजी का भावनात्मक रूप से जन्मोत्सव मनाया गया। दूध, दही, घी, शहद से पंचामृत किया गया। ठाकुर का श्रृंगार किया गया। श्री रामलीला सभा के तत्वावधान में मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम का जन्मोत्सव चित्रकूट पर मनाया गया। आचार्य श्रीनिवास शास्त्री, अनिल स्वामी के निर्देशन में जन्माभिषेक किया। उप सभापति जुगल किशोर अग्रवाल, प्रचार मंत्री शशांक पाठक, राम गोपाल शर्मा, रवि पुजारी मौजूद रहे। श्रीराम जन्म महोत्सव समिति के तत्वावधान में घीया मंडी स्थित प्राचीन श्रीराम मंदिर में श्रीराम का पंचामृत जन्म महाभिषेक मंदिर सेवायत राम महाराज ने किया। शाम को फूल बंगला सजाया गया। अध्यक्ष राजेंद्र भगत, केशव पंडित, हेमंत चतुर्वेदी, मनुऋषि त्रिवेदी, प्रचार मंत्री अमित भारद्वाज, चंदप्रकाश पुजारी, रमनलाल शर्मा, गोविद शरण मौजूद रहे।

वृंदावन: ज्ञानगुदड़ी स्थित रामबाग में भगवान महंत रघुवंश भूषणाचार्य के सान्निध्य में भगवान श्रीराम, सीता व लक्ष्मण के विग्रहों का पंचामृत से महाभिषेक करके महाआरती उतारी गई। बांकेबिहारी कालोनी स्थित बड़े राममंदिर में मर्यादा पुरुषोत्तम का जन्मोत्सव उल्लास पूर्वक मनाया। सुबह से ही मंदिर में जन्मोत्सव का उल्लास छाया था।

सुनरख मार्ग स्थित भक्तिवेदांत मंदिर में जगद्गुरु स्वामी डा. रामकमलदास वेदांती के सान्निध्य में भगवान श्रीराम का जन्मोत्सव उल्लास पूर्वक मनाया।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप