मथुरा, जासं। नार्थ सेंट्रल रेलवे मैंस यूनियन के एक पदाधिकारी संजीव रावत का तबादला यूनियन से एनओसी लिए बिना कर दिया गया है। इसको लेकर यूनियन लगातार विरोध प्रदर्शन कर रही है। बुधवार को नॉनस्टॉप ट्रेन गतिमान एक्सप्रेस से जीएम को निकलना था, यूनियन ने उन्हें काले झंडे दिखाने की योजना बनाई थी। लेकिन अधिकारियों के आश्वासन पर योजना स्थगित कर दी। वहीं गतिमान को निकालने के लिए ताज को करीब 33 मिनट रोककर रखा गया।

यूनियन द्वारा बुधवार को जीएम को काले झंडे दिखाने की जानकारी पर रेलवे अधिकारियों के होश उड़ गए। उन्होंने गुरुवार को समस्या का समाधान कराने का आश्वासन देकर यूनियन के पदाधिकारियों को काले झंडे दिखाने से रोका। इधर दिल्ली से झांसी जाने वाली ताज एक्सप्रेस सुबह 9.52 बजे जंक्शन के प्लेटफार्म नंबर एक पर पहुंची। लेकिन गतिमान से महाप्रबंधक जा रहे थे इसके चलते उसे पहले निकालने के लिए उसे रोके रखा। गतिमान एक्सप्रेस करीब तीन मिनट देरी से 9.18 स्टेशन से गुजरी। इसके बाद ताज 9.25 पर रवाना हुई। शाखा मंत्री एनके शर्मा ने कहा कि अधिकारियों ने गुरुवार तक समस्या के समाधान का आश्वासन दिया है। उपाध्यक्ष संजीव जैन ने कहा कि कर्मचारियों का उत्पीड़न बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इस दौरान डीके गोयल, दीपक उपाध्याय, केएल मीना, वीके जैसवाल, जेवीएस यादव, संतलाल आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप