मथुरा, जासं। 10 मिनट में एटीएम उखाड़कर गाड़ी से रफूचक्कर होने वाले अंतरराज्यीय गैंग के तीन सदस्यों को मथुरा पुलिस ने दबोच लिया है। गिरोह अब तक देशभर में 17 एटीएम लूट चुका है, इनमें एक मथुरा और एक अलीगढ़ सहित बाकी अन्य राज्यों के हैं। बड़ी मात्रा में धनराशि बरामद की है।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज ने बताया कि पांच-छह फरवरी की रात छाता की बैकमेट फैक्ट्री पर लगे आइसीआइसीआइ बैंक के एटीएम को बदमाश उखाड़कर ले गए थे। इसमें 37 लाख 91 हजार 200 रुपये थे। 17 मार्च को शेरगढ़ से विशंभरा जाने वाले रास्ते पर पुलिस ने तीन शातिरों को दबोचा। इनके पास से चोरी की ईको कार, एटीएम उखाड़ने में प्रयुक्त रस्सा, प्लास, असलाह और कारतूस सहित एटीएम लूट के 8,97,000 रुपये बरामद हुए हैं। बदमाशों ने बताया कि अलीगढ़ के थाना अकराबाद में केनरा बैंक का एटीएम भी उन्होंने ही उखाड़ा था। यह है गिरोह: गिरोह के सदस्य जाहुल हक, मुस्तकीम और शाहिल निवासी बड़का, थाना रोज का मेव, जिला नूहं, मेवात हैं। गिरोह का सरगना शाहिद उर्फ आडवानी पुत्र जुम्मा मेव है। अन्य साथियों में रपसन, साकिर निवासी नूंह मेवात, शाहरुख निवासी अलवर राजस्थान और शाहरुख निवासी मुहल्ला नकासा, थाना कोसीकलां शामिल हैं। उखाड़ ले जाते एटीएम: गिरोह के सदस्य कैंटर को सुनसान एटीएम के आगे आड़ा-तिरछा खड़ा कर पहले ओट बनाते थे, इसके बाद रस्सा बांधकर गाड़ी से झटका देते थे, जिससे एटीएम उखड़ जाता था और उसे गाड़ी में डालकर ले जाते थे। सरगना की गाड़ी आगे चलती थी, वह दो बार डिपर देती तो पीछे चल रही टीम समझ जाती थी कि खतरा है, एक बार डिपर का मतलब चलते रहो। आडवानी का इतिहास: हरियाणा, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, दार्जिलिग आदि में एटीएम लूटने वाले गिरोह का लीडर शाहिद उर्फ आडवानी पर थाना नूहं, मेवात, थाना मानेसर गुरुग्राम, थाना सदर रेवाड़ी, भिवाड़ी राजस्थान आदि में करीब 15 मुकदमे दर्ज हैं। आडवानी हरियाणा में बाथरूम के बहाने पुलिस को चकमा देकर भाग गया था। उस पर हरियाणा और राजस्थान पुलिस ने ढाई लाख रुपये का इनाम घोषित कर रखा है। जिला पुलिस ने 25 हजार रुपये का इनाम घोषित कर इनाम राशि बढ़वाने को डीआइजी को पत्र लिखा है। यह रहे टीम में शामिल: गिरफ्तार करने वाली टीम में थानाध्यक्ष शेरगढ़ प्रदीप कुमार, थानाध्यक्ष छाता हरवेंद्र मिश्रा, एसआइ सुल्तान सिंह, राकेश कुमार, देवपाल सिंह, ललित शर्मा, कांस्टेबल सुधीर, नीतिश, अनुज, सोनू गौतम, ब्रजेश, सुरेंद्र कुमार, लोकेश, वसील अकरम और गोपाल शामिल रहे। कप्तान ने टीम को 25 हजार रुपये इनाम देने की घोषणा की है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस