जागरण संवाददाता, मथुरा : महंगाई और पार्टी नेताओं पर दर्ज मुकदमे वापस लेने को लेकर रालोद ने पांच अगस्त को कलक्ट्रेट में बड़ा धरना प्रदर्शन करने की तैयारी तेज कर दी है। इसके लिए गांव-गांव संपर्क किया जा रहा है। रालोद नेता योगेश नौहवार को जेल से रिहा कराने के लिए भी रालोद धरने में हुंकार भरेगी, लेकिन पुलिस ने योगेश के मामले में 20 दिन पहले ही चार्जशीट अदालत में दाखिल कर दी है, अब मामला कोर्ट में चल रहा है।

नौहझील थाना क्षेत्र के गांव मुड़लिया में जिला पंचायत चुनाव के दौरान प्रत्याशियों द्वारा दावत दिए जाने की सूचना बीते 20 मार्च को पुलिस को लगी थी। पुलिस ने मौके पर छापा मारा, तो लोगों ने पुलिस पर हमला कर दिया। कई पुलिसकर्मी चोटिल हो गए। इस मामले में पुलिस ने रालोद नेता योगेश नौहवार समेत कई लोगों को नामजद करते हुए काफी अज्ञात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी। योगेश नौहवार व कई अन्य को जेल भेज दिया गया था। बीते दिनों रालोद नेता योगेश की रिहाई को लेकर डीएम नवनीत सिंह चहल और एसएसपी डा. गौरव ग्रोवर से भी मिले थे। योगेश नौहवार के खिलाफ दर्ज मुकदमे को वापस लेने के साथ ही अन्य आरोपितों का नाम एफआइआर से हटाने की मांग रालोद कर रही है।

पांच मार्च को महंगाई और योगेश नौहवार के मुद्दे को लेकर कलक्ट्रेट में रालोद प्रदर्शन करेगा। योगेश नौहवार व अन्य के खिलाफ पुलिस ने 13 जुलाई को ही अदालत में चार्जशीट दाखिल कर दी थी। अब पूरा मामला अदालत में है। रालोद जिलाध्यक्ष बाबूलाल का कहना है कि चार्जशीट दाखिल कर दी गई, लेकिन हम धरने के जरिए अपनी बात रखेंगे। कई अन्य स्थानों पर किसानों के खिलाफ दर्ज मुकदमे वापस लेने की मांग भी की जाएगी।

Edited By: Jagran