जेएनए, मथुरा: माध्यमिक शिक्षा परिषद की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की बोर्ड परीक्षा गुरुवार से अव्यवस्थाओं के बीच शुरू हो गई। पहले दिन हाईस्कूल में ¨हदी की परीक्षा में सात नकली पकड़े गए। राष्ट्रीय इंटर कॉलेज राया परीक्षा केंद्र से परीक्षार्थी विष्णु उत्तर पुस्तिका लेकर भाग गया। उसके खिलाफ थाना राया में नकल अधिनियम के खिलाफ केंद्र व्यवस्थापक ने मुकदमा दर्ज कराया है।

द्वितीय पाली में इंटर ¨हदी में चार परीक्षार्थियों को भी नकल करते हुए पकड़ गया। इनमें एक बालिका भी शामिल है। हाईस्कूल में 9680 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल नहीं हुए।

कोसीकलां के नगर पालिका इंटर कॉलेज में नकल पर रोक लगा दिए जाने से बाहर मौजूद आक्रोशित भीड़ ने कॉलेज की दीवार को तोड़ डाला। पुलिस ने लाठी फटकार भीड़ को तितर-बितर किया। इंटर सैन्य विज्ञान में कुल 14 परीक्षार्थी थे। एक परीक्षार्थी गैरहाजिर रहा। दोनों पाली की परीक्षाओं के दौरान केंद्रों पर भीड़ का दबाव बना रहा और नकल रोकने के इंतजाम धरे के धरे रह गए। वित्तविहीन कॉलेज परीक्षा केंद्रों पर जमकर नकल कराई गई। सरकारी कॉलेजों के परीक्षा केंद्रों पर नकल कराने से शिक्षा विभाग नकल माफिया को नहीं रुक पाए। कक्षों में बोल-बोल कर कक्ष निरीक्षकों ने प्रश्न पत्र हल कराए गए। बाहर से भी सोल्वर ने प्रश्नों के उत्तर परीक्षार्थियों तक पहुंचाए।

राष्ट्रीय इंटर कॉलेज राया के कक्ष दो से परीक्षार्थी अनिल और मनकामेश्वरी इंटर कॉलेज से परीक्षार्थी उत्तर पुस्तिका को लेकर भाग गया। दोनों के खिलाफ थाना राया में रिपोर्ट कराई गई है।

एक्टीवेट नहीं हुई सिम: परीक्षा में अनुपस्थित रहने वाले परीक्षार्थियों की सूचना बोर्ड ने सीधे केंद्र व्यवस्थापकों से मांगी थी। राष्ट्रीय इंटर कॉलेज सुरीर के केंद्र व्यवस्थापक डॉ. शिवाजी ¨सह ने बताया कि सिम एक्टीवेट न हो पाने से परीक्षा के पहले दिन अनुपस्थिति परीक्षार्थियों की संख्या का मैसेज बोर्ड नहीं भेज जा सका। जरार के केंद्र व्यवस्थापक हीरेश पाठक ने बताया कि यही दिक्कत उनके भी सामने रही।

परीक्षार्थी रहे परेशान:

पैगांव के श्रीचतुर्भुज भगवान इंटर कॉलेज के परीक्षार्थियों का सेंटर नगर पालिका इंटर कॉलेज में था। परीक्षा से एक दिन पहले परीक्षा केंद्र को बदल दिए जाने से परीक्षार्थियों को भारी परेशानियां हुई।

देर रात तक जमा हो रहीं उत्तर पुस्तिका

-इंटरमीडिएट की परीक्षा साढ़े पांच बजे संपन्न हो गई थी, लेकिन परीक्षा में अनुपस्थित रहे परीक्षार्थियों की संख्या केंद्र व्यवस्थापकों ने आठ बजे तक भी डीआइओएस कार्यालय स्थित कंट्रोल रूम को नहीं भेजी थी। इसके पीछे कारण यह बताया गया कि उस समय तक उत्तर पुस्तिका जमा नहीं हुई थी। देररात तक उत्तरपुस्तिका जमा कराई जा रही थी।

16 परीक्षार्थी गैर हाजिर

वृंदावन: उप्र माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की परीक्षा के लिए शहर में बनाए गए चार सेंटरों में 1358 विद्यार्थियों को परीक्षा देनी थी। इसमें पहले ही दिन आठ हाईस्कूल और आठ ही विद्यार्थी इंटरमीडिएट के गैरहाजिर रहे।