मथुरा (सुरीर): होली के दिन सुरीर में आधा दर्जन स्थानों पर हुए झगड़े में एक दर्जन से अधिक लोग घायल हो गये। गाव भिदौनी में पुलिस को फजीहत का सामना करना पड़ा। यहां उपद्रवियों ने होमगार्ड की वर्दी फाड़ दी। पुलिस ने सात उपद्रवियों को गिरफ्तार किया है।

भिदौनी में सोमवार को कीचड़ डालने के विवाद में जातीय संघर्ष की स्थिति पैदा हो गयी। दो पक्षों में मारपीट और पथराव हुआ। पुलिस ने पथराव करती भीड़ को रोकने के लिए बल प्रयोग करने का प्रयास किया तो भीड़ में शामिल कुछ ग्रामीणों ने पुलिस से अभद्रता कर दी। इस दौरान पुलिस के साथ गए एक होमगार्ड की वर्दी फट गयी। एसओ जितेंद्र दीक्षित ने जैसे-तैसे स्थिति पर नियंत्रण पाया। घटना में दोनों पक्षों के भिक्की सिंह, हरीसिंह, बिजेंद्र, विजय, रामकिशन, सत्यवीर एवं सुल्तान को गिरफ्तार कर चालान किया है।

कोतवाली सुरीर क्षेत्र के गाव कराहरी में होली के दिन मन्नी के पुत्र राहुल और अजय गाव के युवक राधे के घर तसिया-ढोल मागने गए थे। राधे द्वारा तसिया देने से मना करने पर तीनों पिता-पुत्रों ने राधे को मारपीट कर अधमरा कर दिया। उसे बचाने आए योगेश और हीरा से भी मारपीट की गई। सुरीर कस्बा में नशे में रंग डालने के विवाद को लेकर बुद्धा और जयप्रकाश पक्ष के बीच झगड़ा हो गया। इसमें एक पक्ष के बुद्धा और गोपाल एवं दूसरे पक्ष के जयप्रकाश और बिन्टू घायल हो गए।

कस्बा सुरीर निवासी शरीफ अपने साथी तारा और सद्दाम के साथ सोमवार को टेंपो से जरारा जा रहा था। भदनवारा के समीप आरोपी मुरारी लाल सेन, रामवीर और तरुण ने टेंपो रोक लिया। विरोध करने पर उन्होंने ईट से आगे का शीशा तोड़ते हुए मारपीट की।

भालई में बिजली का तार हिला देने के विवाद में सगे भाई राधारमन और रमेश के परिवार के बीच झगड़ा हो गया। एक पक्ष के बेबी और नीरेश एवं दूसरे पक्ष के लवकुश, बिरमादेवी और सत्यनारायन घायल हो गए। युवती नीरेश की हालत गम्भीर है।

कोतवाली सुरीर के गाव सिकंदरपुर में सोमवार को आपसी विवाद मे खचेरमल और रामबाबू पक्ष में मारपीट हो गई। दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर ईंट-पत्थर बरसाये। रामबाबू पक्ष के हाकिम और सुभाष घायल हो गए। इन सभी मामलों की रिपोर्ट इलाका पुलिस में कराई गई है।