मैनपुरी, जागरण संवाददाता। राजा का बाग से कोचिग पढ़कर लौट रहीं छात्राओं से छेड़खानी कर रहे शोहदों को एक पिता ने अच्छा खासा सबक सिखाया। बाइक सवार एक युवक को पकड़ लिया और जमकर पिटाई की। उसके अन्य साथी मौका पाकर फरार हो गए।

घटना सोमवार सुबह लगभग 10 बजे की है। कोतवाली और सहकारी बैंक परिसर के बीच स्थित गली से होकर कुछ छात्राएं ट्यूशन पढ़कर वापस लौट रहीं थीं। इसी दौरान बाइक पर सवार तीन शोहदों ने छात्राओं को रास्ते में ही रोक लिया और बदसलूकी करने लगे। शोर मचाने पर उसी रास्ते से गुजर रहे एक व्यक्ति ने दो मनचलों को दबोच लिया और उनकी पिटाई शुरू कर दी। साथी को पिटता देख तीसरा युवक बाइक लेकर फरार हो गया। मैं भी बेटी का पिता हूं, मदद करो बेटियों की..

जिस राहगीर ने शोहदों को सबक सिखाया, वह भी बेटी के पिता हैं। घटना के बाद घटना स्थल पर तमाम लोगों की भीड़ जमा हो गई। यहां छात्राओं की मदद करने वाले राहगीर ने लोगों से मदद का आह्वान किया। वह बोले बोले- मैं भी एक बेटी का पिता हूं, आप भी राह गुजर रही बेटियों के साथ हो रही अनहोनी में मदद को आगे बढ़ें तो, इस तरह का दुस्साहस कोई करने की हिम्मत नहीं जुटा सकेगा। इन रास्तों पर मनचलों का आतंक

शहर में आश्रम रोड वाली सड़क, एचपी गैस गोदाम से आश्रम रोड जाने वाला मार्ग, डीएवी इंटर कॉलेज वाली गली, उत्तम नर्सिंग होम वाली गली, बीएसएनएल एक्सचेंज वाला मार्ग, बालाजीपुरम, हरिदर्शन नगर मार्ग, शगुन मैरिज होम से होकर देवपुरा निकलने वाली गली, शंकर टाकीज मार्ग सहित दर्जन भर ऐसे रास्ते हैं जहां रोजाना मनचलों द्वारा छात्राओं और युवतियों के साथ बदसलूकी की जाती है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस