मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

संसू, कुरावली: भीषण गर्मी में कटौती पर अंधाधुंध बिजली कटौती के खिलाफ युवाओं का पारा हाई हो गया। आक्रोशित युवाओं ने सब स्टेशन पर जाकर ताला जड़ दिया और जमकर हंगामा किया। युवा बिजली अफसरों पर सीएम योगी के निर्देशों की अवहेलना का आरोप लगाते हुए धरने पर बैठ गए। लोगों का आक्रोश देख कर्मचारी भाग गए। बाद में अधिकारियों ने आंदोलन कर रहे युवाओं को समझा बुझाकर शांत किया।

कस्बा में पिछले कई दिनों से अंधाधुंध बिजली कटौती हो रही है। बमुश्किल सात घंटे ही आपूर्ति मिल पा रही है। गर्मी में कटौती से परेशान कस्बा के युवा बुधवार को सब स्टेशन पर पहुंचे और हंगामा शुरू कर दिया। युवाओं के आक्रोश को देख विद्युत कर्मचारी इधर-उधर भाग गए। इसके बाद युवाओं ने सब स्टेशन पर ताला जड़ दिया। युवाओं के हंगामा को देखते हुए प्रशासन में खलबली मच गई। आननफानन में मौके पर पहुंचे एसडीएम अनूप कुमार, एसडीओ संजीव कुमार ने आक्रोशित युवाओं की पीड़ा को सुना। युवाओं का कहना था कि मुख्यमंत्री के आदेशों की अवहेलना करते हुए कस्बा को मात्र सात से आठ घंटे ही विद्युतापूर्ति दी जा रही है। रात में अघोषित कटौती के चलते कस्बा और क्षेत्र के लोग चैन से सो तक नहीं पा रहे हैं। आरोप लगाया कि कटौती की कोई भी सूचना विभाग के किसी भी कर्मचारी द्वारा नहीं दी जाती है। जानकारी करने पर कोई भी अधिकारी फोन भी नहीं उठाता।

एसडीएम अनूप कुमार ने धरना पर बैठे युवाओं को भरोसा दिलाया कि शासन के निर्देश के अनुरूप ही 20 घंटे बिजली आपूर्ति दी जाएगी। इसका लिखित में एसडीओ ने पत्र भी दिया। इस अवसर पर अजय सिंह कुशवाह, आकाश गुप्ता, बृजेश जादौन ,सुनील यादव,तिलक यादव, विहान कश्यप, कुलदीप राठौर, प्रवेश शर्मा, इंद्रवीर भूरे, राजेश प्रताप सिंह राठौर, अभय, फरीद खां, मोहन कश्यप, प्रदीप गुप्ता मौजूद रहे।

-

कटौती न रुकी तो महिलाएं देंगी धरना

किशनी: तहसील क्षेत्र में बिजली कटौती महिलाएं और बच्चे व्याकुल हैं। महिलाओं का कहना है कि अगर जल्द ही रात की कटौती न रोकी गयी तो वे बिजली घर जाकर धरना देंगी।

नगर क्षेत्र में पिछले 20 दिनों से बिजली कटौती व्यापक स्तर पर हो रही है। आने-जाने का कोई समय निर्धारित नही है। इससे सर्वाधिक परेशानी महिलाओं और छोटे बच्चों को हो रही है। चेतावनी देने वालों में रामवती, अर्चना, ममता, मीरा, सपना, रिकी, बिनीता, शशि, प्रेमा, सुखदेवी, बिट्टो देवी, रामसखी शामिल हैं। बिजली कटौती से जनमानस बेहाल

बिछवां: विकास खंड सुल्तानगंज के सुल्तानगंज विद्युत उपकेंद्र कर्मियों की मनमानी लोगों पर भारी पड़ रही है। बिजली कटौती से हर कोई बेहाल है। ग्रामीणों का कहना है कि कटौती की वजह कर्मचारी ओवरलोडिग या फॉल्ट बताते हैं। मंगलवार को करीब तेरह घंटे कटौती की गई। ग्रामीण जागेश्वर, राकेश कुमार, भोले पांडेय, असफाक खां, राजकुमार, अखिलेश कुमार, भगवान दास, रामवीर सिंह, अजय प्रताप, सुधीर सिंह, हरवीर सिंह, लक्ष्मण सिंह, भोले मिश्रा, रामकिशन, अनिल कुमार आदि ने डीएम से निर्धारित बिजली दिलाने की मांग की है।

- गर्मी में उमस को भड़का रही बिजली कटौती

बारिश न होने से बढ़ने लगा तापमान, हर कोई दिख रहा बेवस

फॉल्ट और कटौती के नाम पर कई घंटे गायब हो रही बिजली

जासं, मैनपुरी: मौसम की बेरुखी से सता रही उमस को बिजली कटौती और भड़का रही है। पिछले कई दिनों से बारिश नहीं होने से अब दिन का तापमान भी बढ़ने लगा है। सुबह से रात तक उमस पसीना छुड़ा रही है। आम जनजीवन बेहाल है। दिन और अलावा रात में कई बार बिजली कटौती होने से लोग बेचैन हैं।

जिले में कई दिनों से गर्मी के तेवर बढ़ते जा रहे हैं। उमस तो और भी परेशानी बनाए हुए है। पंखे के नीचे भी पसीना नहीं सूख रहा है।

-

तीन घंटे की कटौती शहरवासी रहे परेशान

मंगलवार रात समूचा शहर कटौती से त्रस्त रहा। रात साढ़े आठ बजे गायब बिजली साढ़े नौ बजे के बाद दो-तीन मिनट के लिए आई। इसके बाद फिर गायब बिजली 11.30 बजे के बाद आई। करीब तीन घंटे की कटौती ने लोगों को परेशान कर दिया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप