जासं, मैनपुरी: बाजार में प्याज के भाव शतक पर जा पहुंचे हैं। नई फसल आने के बाद भी लगातार महंगी हो रही प्याज अब नागरिकों के आंसू निकाल रही है। शुक्रवार को मंडी में 80 रुपये किलो थोक में बिकी प्याज बाजार में आते ही सौ रुपये किलो में बिकी। रसोई का बजट बिगड़ने से महिलाएं परेशान हैं तो फुटकर विक्रेता भी बिक्री कम होने से दिक्कत महसूस कर रहे हैं।

शहर में नवरात्र से पहले 60 रुपये किलो तक बिकी प्याज अब फिर नागरिकों के आंसू निकाल रही है। नई फसल आने के बाद भाव कम होने के बजाय और बढ़ गए हैं। एक सप्ताह पहले 70 रुपये किलो बिक रही प्याज शुक्रवार को शहर के घंटाघर सब्जी मंडी में सौ रुपये किलो बिकी। ज्यादा भाव होने से नागरिक अब इसे खरीदने से बच रहे हैं।

शुक्रवार दोपहर सब्जी मंडी में प्याज खरीदने आई माया देवी भाव सुनकर पहले तो चौंक गईं, बाद में आधा किलो खरीदकर ले गईं। उन्होंने बताया कि प्याज के दाम ज्यादा होने के कारण वह जरूरत भर की ले जा रही हैं। वहीं, गृहणी रानी का कहना था कि इतने महंगे भाव में सेब भी नहीं बिक रहे हैं। वहीं, शहर के घंटाघर सब्जी मंडी में फुटकर में प्याज बेचने वाले चिटू का कहना था कि भाव ज्यादा होने से अब प्याज की बिक्री कम हो गई है। पहले भाव कम होने से वह पूरे दिन में सौ किलो बेच लेता था, अब बिक्री चौथाई रह गई है। तमाम ग्राहक तो भाव सुनकर लौट जाते हैं। उसने बताया कि थोक में प्याज 80 रुपये मिल रही है। पांच फीसद कमीशन और भाड़ा लगाकर 90 रुपये पड़ रही है, अब केवल 10 रुपये किलो में व्यापार कर रहे हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस