जासं, मैनपुरी: लॉकडाउन में बीज और उर्वरक और कीटनाशक विक्रेताओं की दुकानें खोली जा सकेंगी। किसानों की सुविधा के लिए बीज-उर्वरकों की दुकानों को प्रतिदिन खोलने की छूट दी गई है। बीज-खाद और कीटनाशक बिक्री के लिए जो लाइसेंस पहले से जारी हैं, उन्हें जिला प्रशासन ने अब लॉकडाउन के दौरान पास के रूम में मान्यता दी है। कोई भी विक्रेता अपने लाइसेंस की मूल प्रति या छाया कापी साथ लेकर दुकानों पर जा सकेंगे। इसे दिखाने के बाद पुलिस उन्हें नहीं रोकेगी।

जिला कृषि अधिकारी डॉ. गगनदीप सिंह ने बताया कि ई-पॉस मशीन पर अंगूठा लगाने के बाद किसानों को बीज, खाद और कीटनाशक दिया जाता है। हमने विक्रेताओं को ई-पॉस मशीन पर किसानों के अंगूठे सेनिटाइजर से साफ कराने के बाद ही लगवाने की हिदायत दी। उप कृषि निदेशक डीवी सिंह ने बताया कि गेहूं की फसल पककर तैयार है, इसलिए गेहूं कटाई की मशीन को एक जगह से दूसरी जगह लाने-लेजाने पर छूट दी गई है। किसानों को फोन से सूचित किया जा रहा है कि फसल कटाई और थ्रेसिग के दौरान कोराना वायरस से बचाव पर खास ध्यान दें। कोई किसान यदि इसकी खरीद के लिए निकलता है तो उसे रोका नहीं जाएगा।

रखना होगा सुरक्षा का ख्याल: किसान और श्रमिक एक मीटर दूरी पर रहेंगे। चेहरा ढक कर अलग-अलग क्यारियों में कटाई करें।

दरांती, जेली, खुरपी, फावड़ा, रस्सी आदि किसी से साझा करना भी पड़े तो इनको नीम या साबुन के पानी या फिनायल आदि से सेनेटाइज करें, धूप में रखें।

धूप और डिहाइड्रेशन से बचने के लिए सिर ढक कर रखें, पर्याप्त पानी पीते रहें और शरीर को स्वस्थ रखें। सरकार द्वारा समय-समय पर जारी एडवाइजरी का पालन करें।

इन निर्देशों का रखना होगा ख्याल:

खाद, बीज और कीटनाशक के परिवहन में लगे वाहनों को उक्त कार्य में लगे होने पर नहीं रोका जाएगा। वाहन स्वामी, वाहन चालक अपने मालवाहक वाहनों में आवश्यक वस्तु मैनपुरी लिखा हुए स्टीकर लगाएंगे। वाहनों में कोई बैठा है तो उनके बीच में एक मीटर की दूरी बनी रहे। सभी दुकानदार शारीरिक दूरी का ख्याल रखते हुए ग्राहकों को खड़ा करेंगे, किसी भी प्रतिष्ठान में भीड़ नहीं लगने दी जाएगी। किसानों को लाइन में खड़े होने के लिए प्रत्येक एक मीटर दूरी पर चूने से गोला बनाया जाएगा। ई-पॉस मशीन प्रयोग से पूर्व किसानों के हाथ सेनिटाइज किए जाएंगे। प्रतिष्ठान परिसर को प्रत्येक दो घंटे में एक फीसद ब्लीचिग पाउडर के घोल से सेनेटाइज किया जाएगा।

अनुमति पर आएंगे कंबाइन:

कंबाइन हार्वेस्टर, ट्रैक्टर और कृषक उपकरण एक जिले से दूसरे जिले के लिए डीएम या प्रशासन की अनुमति के बाद ही आ और जा सकेंगे।

नगर पंचायत ने कराया मंदिरों को सेनेटाइज: संसू, कुरावली : गुरुवार को नगर पंचायतकर्मियों ने नगर के मंदिरों को स्प्रे कर सेनेटाइज किया। नगर पंचायत द्वारा चेयरमैन संगीता वर्मा, ईओ डॉ. कल्पना बाजपेई के निर्देशन में लगातार नगर को सेनेटाइज करने की कवायद की जा रही है। गुरुवार को नगर पंचायत कर्मियों द्वारा नगर के झारखंडेश्वरनाथ मंदिर, बनखंडेश्वरनाथ मंदिर, महाराज बाबा सहित नगर के सभी मदिरों को सेनेटाइज किया गया। इस संबंध में चेयरमैन प्रतिनिधि धर्मेंद्र वर्मा ने बताया कि नगर के प्रत्येक वार्ड सहित प्रत्येक स्थान को सेनेटाइज करने की कवायद की जा रही है। इसके साथ ही प्रतिदिन एंटीलार्वा दवा का छिड़काव और मच्छरों को कम करने के लिए फॉगिग भी कराई जा रही है।

नगरपंचायत कार्यालय के गेट पर लगाई गई सेनेटाइज मशीन: नगर पंचायत चेयरमैन संगीता वर्मा व ईओ डॉ. कल्पना बाजपेई के निर्देशन में गुरुवार को नगर पंचायत कार्यालय के मुख्य गेट के निकट सेनेटाइज मशीन को लगा दिया गया। ईओ का कहना है कि नगर पंचायत कार्यालय में आने वाले प्रत्येक व्यक्ति को मशीन के सामने से गुजरना पड़ेगा। मशीन आने वाले प्रत्येक व्यक्ति पर सेनेटाइजर का छिड़काव करेगी। इससे व्यक्ति पूरी तरह सेनेटाइज हो जाएगा। वर्तमान में कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए नगर पंचायत द्वारा विशेष व्यवस्था की गई है। उनका कहना है कि नगर में अन्य स्थानों पर भी ऐसी ही मशीनें लगवाने की योजना है।

डीएम और एसपी ने सील भोगांव क्षेत्र का किया दौरान, देखी स्थिति: जासं, मैनपुरी: लॉकडाउन का पालन कराने के लिए पुलिस लगातार प्रयासरत है। इसे तोड़ने की कोशिश करने वालों पर पुलिस तेजी से कार्रवाई कर रही है। ताकि अन्य लोग सबक लेकर लॉकडाउन के नियमों को तोड़ने का दुस्साहस न कर सकें। इधर, डीएम और एसपी ने गुरुवार को सील किए गए घिरोर क्षेत्र का दौरा कर व्यवस्थाएं देखीं।

कस्बा घिरोर में कोरोना संक्रमित की संख्या बढ़ने के बाद फायर ब्रिगेड की गाड़ी से गली-मुहल्लों सहित कस्बा में सेनेटाइज कार्य किया जा रहा है। गुरुवार को जिलाधिकारी महेंद्र बहादुर सिंह, पुलिस अधीक्षक अजय कुमार कस्बा घिरोर पहुंचे। यहां वार्ड की व्यवस्थाएं देखीं। उनके साथ उपजिलाधिकारी अनिल कुमार कटियार, क्षेत्राधिकारी दद्दन प्रसाद, थाना प्रभारी आदित्य कुमार, अधिशासी अधिकारी सुभाष चंद्र ओर पीएचसी प्रभारी डॉ. प्रवीन यादव मौजूद रहे।

एसपी अजय कुमार पांडेय ने बताया कि धारा 144 का उल्लंघन करने के अब तक 188 मामले दर्ज हो चुके हैं। 309 लोगों की गिरफ्तारी हुई है। बेवजह घूमने वालों के 213 वाहन सीज किए गए हैं। छह लाख रुपया जुर्माना लगाया जा चुका है। 19 हजार लोगों को डांट फटकार के बाद चेतावनी देकर घर भेजा जा चुका है। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि लॉकडाउन के नियमों का पालन करने से ही कोरोना को हराना संभव हो सकता है। उन्होंने जिले के लोगों से अपने घरों में रहने की अपील की है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस