जासं, मैनपुरी: अज्ञात चोरों ने एक बार फिर से बिजली विभाग को अपना निशाना बनाया। चोरों ने आधी रात के बाद 33 केवी फीडर से आपूर्ति 11 खंभों के तारों को काट लिया। इससे फीडर से जुडे़ 32 गांव की विद्युत आपूर्ति ठप पड़ गई है। रातभर इन गांवों में अंधेरा छाया रहा। विभागीय टीमों द्वारा नए तार बिछाने का काम किया जा रहा है। अवर अभियंता ने इस संबंध में अज्ञात चोरों के खिलाफ करहल थाना में तहरीर दी है।

कांकन उपकेंद्र के अवर अभियंता नारायण सिंह ने करहल थाने में दी तहरीर में बताया कि रविवार की रात 12:20 के बाद अचानक फीडर से आपूर्ति बंद हो गई। बार-बार सप्लाई छोड़ने के बावजूद लाइन ट्रिप हो रही थी। सोमवार की सुबह पट्रोलिग टीम को गश्त के दौरान कांकन गांव के पीछे खेतों में खंभे और इंसुलेटर टूटे हुए पड़े मिले। थोड़ी देर बाद जब गश्त बढ़ाई गई तो गांव में नौ खंभों के इंसुलेटर टूटे पडे़ मिले, जबकि इनके तार गायब थे। अज्ञात चोरों द्वारा लाइन का ब्रेकडाउन करके 11 खंभों से 750 मीटर तार चोरी कर लिया गया है। इसकी कीमत लगभग पांच लाख रुपये बताई है। तार चोरी होने का असर विद्युत व्यवस्था पर पड़ा। कुल 32 गांवों की बिजली सप्लाई बाधित हो गई है। अधीक्षण अभियंता अतुल अग्रवाल का कहना है कि विभागीय टीमों की मदद से नौ नए खंभे लगवाने के साथ नए तार बिछवाए जा रहे हैं। जल्द ही आपूर्ति को पूरी तरह से दुरुस्त करा दिया जाएगा। अज्ञात चोरों के खिलाफ पुलिस में तहरीर दी गई है।

Edited By: Jagran