संसू, किशनी (मैनपुरी): चोरों ने सोमवार रात पुलिस को सीधी चुनौती दे दी। थाने के चंद कदम दूरी पर सराफा दुकान के पांच ताले तोड़ नकदी और जेवरात से भरी तिजोरी ले गए। इसके बाद साड़ी की एक दुकान के भी ताले चटकाए। इस वारदात से आक्रोशित दुकानदारों ने हंगामा किया। एसपी अजय कुमार ने गश्त पर रहे चार सिपाहियों को जांच के बाद दोषी पाए जाने पर निलंबित करने का आश्वास दिया, तब जाकर व्यापारी माने।

किशनी थाने से बमुश्किल 50 मीटर दूर अमित चौहान का आवास है और बगल में ही उनकी राधा ज्वैलर्स नाम से दुकान है। सोमवार सुबह घर का मैनगेट खोला मगर वो बाहर से कपड़ा से बंधा था। अमित किसी प्रकार गेट खोलकर बाहर निकले। देखा तो दुकान के पांचों ताले और कुंडे टूटे थे। दुकान से तिजोरी गायब थी। अमित के मुताबिक, तिजोरी में 1.45 लाख रुपये, 30 ग्राम सोने और 600 ग्राम चांदी की जेवर रखे थे। थोड़ी देर में ही पता चला कि चोरों ने यहां करीब 300 मीटर दूर स्थित राजेश साड़ी सेंटर के भी ताले तोड़ दिए लेकिन, कुछ चोरी नहीं हुआ।

एक ही रात में दो दुकानों पर चोरों के धावा बोलने से व्यापारी आक्रोशित हो गए। बाजार बंद रख सुबह करीब 8:30 बजे लामबंद व्यापारियों ने तहसील परिसर में प्रदर्शन शुरू कर दिया।

एसपी अजय कुमार ने तहसील पहुंच व्यापारियों को समझाकर शांत किया। एसपी ने बताया कि गश्त पर रहे चारों सिपाहियों के निलंबन के आदेश दिए। एसओ ओमहरी वाजपेयी को चोरी के राजफाश के लिए चार दिन का अल्टीमेटम दिया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस