जासं, मैनपुरी : नगला जाख निवासी वृद्ध के कांगड़ा देवी मंदिर के हवन कुंड में कूदने की घटना से गांव के लोग हैरान हैं। जानकारी मिलने के बाद परिवार के लोग मौके के लिए रवाना हो गए हैं। वृद्ध का हाल जानने के लिए गांव के लोग स्वजन से संपर्क करने का प्रयास कर रहे हैं, लेकिन उनका मोबाइल नहीं लग रहा है। थाना घिरोर के गांव नगला जाख निवासी वृद्ध मनफूल सिंह नगरकोट कांगड़ा देवी के भक्त है। पिछले 32 सालों से वे प्रतिवर्ष दर्शन के लिए कांगड़ा देवी मंदिर जाते हैं। 11 अक्टूबर को एटा से जाने वाली विशेष बस से कांगड़ा देवी मंदिर गए थे। बुधवार को उन्होंने देवी का जयकारा लगाया और मंदिर परिसर में स्थित हवन कुंड में कूद गए। वहां मौजूद लोगों ने उन्हें हवन कुंड से निकाल कर अस्पताल पहुंचाया। इस घटना में 40 फीसद झुलस गए हैं। मनफूल सिंह के साथ हुई घटना की जानकारी स्वजन को नहीं मिल सकी थी। बुधवार शाम दैनिक जागरण ने स्वजन से संपर्क कर मनफूल सिंह के साथ हुई घटना की जानकारी दी, तो वे हैरान रह गए। उन्होंने वृद्ध के साथ गए लोगों से संपर्क करने का प्रयास किया, लेकिन कोई जानकारी नहीं मिल सकी। इस पर गुरुवार सुबह वृद्ध का पुत्र मनोज व अन्य स्वजन मौके लिए रवाना हो गए। मौके के लिए रवाना हुए लोगों के साथ दोपहर बाद तक गांव वालों का संपर्क रहा। उनके बाद उनका मोबाइल लगना बंद हो गया। गांव के लोग वृद्ध के जल्द स्वस्थ होने की कामना कर रहे हैं।

Edited By: Jagran