संसू, भोगांव : छात्रा दुष्कर्म हत्याकांड की सच्चाई जानने में जुटे विशेष जांच दल ने गुरुवार को दोबारा हास्टल में जाकर क्राइम सीन की पड़ताल की। एसआइटी में शामिल सीओ तनु उपाध्याय ने अपनी टीम के साथ स्कूल में पहुंचकर वर्तमान वार्डन से उन्होंने छात्राओं के रुकने की व्यवस्थाओं व अंदर के माहौल को लेकर सवाल किए। सीओ के साथ शामिल पुलिसकर्मियों ने छात्राओं से भी पूछताछ की। छात्रा का शव जिस कमरे में झूलता मिला था। वहां पर एक घंटे तक टीम ने विभिन्न पहलुओं की जांच की। लगभग दो घंटे से ज्यादा की जांच पड़ताल के बाद जरूरी अभिलेखों को लेकर टीम सर्किट हाउस के लिए रवाना हो गई। ।

आरोपित तत्कालीन प्रधानाचार्य से पूछताछ की

गुरुवार को एसआइटी ने स्कूल की तत्कालीन प्रधानाचार्य सुषमा सागर से पूछताछ का सिलसिला जारी रखा। सर्किट हाउस में अधिकारियों ने प्रधानाचार्य से तमाम सवाल किए गए। प्रधानाचार्य के साथ ही एसआइटी की टीम मामले में नामित तत्कालीन वार्डन विश्रुति सिंह से भी पूछताछ कर रही है। अब होगी आरोपित छात्र से पूछताछ

एसआइटी ने इस मामले में अब तक स्टाफ से पूछताछ की है। छात्रा के स्वजन की एफआइआर में नामित उसके सहपाठी छात्र से पूछताछ के लिए तैयारी कर ली गई है। सूत्रों के मुताबिक छात्र को पुलिस ने अपनी अभिरक्षा में ले लिया है। जल्द ही अन्य छात्रों से भी पूछताछ का सिलसिला शुरू होने की संभावना है। छात्रा के मुहल्ले में की एसआइटी ने जांच

जासं, मैनपुरी: छात्रा हत्याकांड की जांच में जुटी एसआइटी अलग-अलग पहलुओं पर जांच कर सुराग जुटा रही है। गुरुवार को एसआइटी ने छात्रा के माता-पिता के घर जाकर बातचीत की। जांच करने वालों में एक महिला सदस्य भी शामिल थीं। एसआइटी ने छात्रा के माता-पिता से घटना को लेकर बातचीत की। उसके बाद अन्य विषयों पर चर्चा होती रही। करीब दो घंटे तक एसआइटी के सदस्य छात्रा के घर पर मौजूद रहे। बाद में मुहल्ले के लोगों से बातचीत कर सुराग जुटाने का प्रयास किया गया। छात्रा की सुरक्षा को लगाए गए पुलिस कर्मी गुरुवार को भी तैनात रहे। एसटीएफ के पूर्व सीओ भी पहुंचे जिला अस्पताल

पूर्व एसआइटी में एसटीएफ के सीओ श्यामकांत को भी शामिल किया गया था। हालांकि बाद में इनका स्थानांतरण गैर जनपद के लिए कर दिया गया था। गुरुवार को वे जिला अस्पताल में नजर आए। बाद में महिला अस्पताल के सामने कुछ देर रुकने के बाद चले गए।

Edited By: Jagran