जासं, मैनपुरी: ग्राम पंचायतों में पंचायत सहायक पद पर भर्ती के लिए इंतजार कर रहे आवेदकों के लिए यह खबर राहत देगी। जिले की 416 ग्राम पंचायतों में पंचायत सहायकों के चयन पर जिला समिति ने अंतिम मुहर लगा दी है। अब इनको अगले दिनों में नियुक्ति का अनुबंध जारी हो जाएगा। अभी 133 पदों का मामला फंसा हुआ है, जिनमें से 49 आपत्ति और अन्य विवाद वाले शामिल हैं।

जिले की 549 ग्राम पंचायतों में पंचायत सहायक पद पर एक साल के लिए छह हजार मासिक मानदेय पर युवक-युवतियों को रखे जाने के लिए शासन ने आदेश दिए थे। आवेदनों को ग्राम पंचायतों को इनकी वरिष्ठता सूची तैयार करके अंतिम चयन को जिला समिति के पास भेजा। सौ से ज्यादा प्रधान और सचिवों पर मनमानी के आरोप लगे। खुली बैठक में चयन नहीं करके मनमानी वरिष्ठता सूची तैयार करने की शिकायतें हुई तो प्रशासन ने निस्तारण को नोडल अधिकारी भी बनाए। ऐसे विवादों की वजह से यह अंतिम सूची तय तिथि 10 सितंबर तक जारी नहीं हो सकी।

विवादों वाली ग्राम पंचायतों पर ध्यान लगाने के बजाय जिला समिति ने बिना विवाद वाली 416 ग्राम पंचायतों में सहायक पदों पर चयन को स्वीकृति देकर सूची संबंधित बीडीओ और एडीओ को भेज दी है। अब यह सूची सोमवार को ब्लाक पर चस्पा कर दी जाएगी।

प्रधान जेल में, चयन करेगी समिति

ग्राम पंचायत महादेवा के प्रधान के जेल में होने की वजह से यहां सहायक पद का चयन नहीं हो सका है। अब डीएम के आदेश पर सदस्य को चयन के लिए अधिकार दिए जाएंगे, समिति के जरिये यह चयन होगा।

49 ग्राम पंचायतों में फंसा विवाद

49 ग्राम पंचायतों में आपत्तियों की भरमार है। बेवर के भूड़हार के मजरा भूड़ पडिया में प्रधान और सचिव पर बिना खुली बैठक पद पर सरिता देवी के चयन करने का आरोप है। ग्राम सभा के नौ सदस्य प्रथम वरीयता वाली वंदना शाक्य के समर्थन में उतरे आए हैं। अब ऐसी 49 पंचायतों की आपत्तियों के निराकरण को नोडल अधिकारी, बीडीओ और एडीओ को जिम्मेदारी दी है, जो एक-दो दिन में इनका निस्तारण कर अंतिम नाम तय करेंगे।

22 प्रकरण सीएमओ को सौंपे-

जिला समिति अब 22 ग्राम पंचायतों में सहायक पदों पर चयन का काम सीएमओ की रिपोर्ट के बाद करेंगी। यह मामले कोरोना से मृत आश्रितों से जुड़े हैं। सच्चाई परखने के लिए सीएमओ को इनकी जाच जल्द करके देने को कहा है। बैठक नहीं करने पर 13 को नोटिस

जिला पंचायत राज विभाग ने 13 ग्राम पंचायतों के प्रधानों को खुली बैठक नहीं करने पर नोटिस दिए हैं। डीएम के निर्देश पर अधिकार सीज करने की चेतावनी के साथ जवाब मांगा गया है। बताते हैं कि बैठक में यह चयन कर लिया जाएगा तो नोटिस का औचित्य नहीं रहेगा।

मैनपुरी ब्लाक में आठ मामले फंसे

मैनपुरी ब्लाक की 48 ग्राम पंचायतों में सहायक का चयन नोडल अधिकारी की रिपोर्ट नहीं आने से फंसा है। रविवार को नोडल अधिकारी डा. इन्द्रा सिंह ने 40 की रिपोर्ट दे दी है अब आठ का मामला अटका है। उनका कहना है कि अगले दिन में इसे भी दिया जाएगा।

जिले की 549 ग्राम पंचायतों में से 416 में सहायक पद पर चयन को जिला समिति ने अंतिम रूप देकर सूची संबंधित बीडीओ को भेज दी है, आगे की प्रक्रिया ग्राम पंचायत करेगी। 133 ग्राम पंचायतों के प्रकरण कई वजह से अभी नहीं हो सके हैं, जल्द पूरा कराया जाएगा।

-स्वामीदीन, जिला पंचायत राज अधिकारी।

Edited By: Jagran