जासं, मैनपुरी: पतंजलि योग समिति एवं भारत स्वाभिमान ट्रस्ट के संयुक्त तत्वावधान में शनिवार को राष्ट्रीय पतंजलि महिला दिवस पर योग प्रशिक्षण एवं विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया।

शहर के स्काउट गाइड भवन पर कार्यक्रम का शुभारंभ पूर्व चेयरमैन साधना गुप्ता और डॉ. शील कुमारी ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया। उन्होंने कहा कि योग ने वाकई लोगों की जिदगी में बड़ा बदलाव किया है। यह न सिर्फ मानसिक थकान को दूर करता है बल्कि कई असाध्य रोगों के नाश में भी सहायक है। डॉ. चंद्रमोहन सक्सेना ने कहा कि एक छोटे परिवार से हुई शुरुआत आज बडे़ वृक्ष के रूप में बदल चुकी है।

आज युवाओं में भी योग और प्राणायाम को लेकर रुचि बढ़ रही है। स्थिति यह है कि स्कूल और कॉलेजों में भी योग की क्रियाओं के जरिए विद्यार्थियों में जागरूकता पैदा की जा रही है। गोष्ठी के बाद महिला प्रभारी दाखश्री के नेतृत्व में योग और प्राणायाम की अलग-अलग क्रियाओं का एक घंटे तक अभ्यास कराया गया। इस मौके पर किरन चतुर्वेदी, ज्ञान कुमारी, स्मृति श्रीवास्तव, चंद्रप्रकाश, रंजना सक्सेना, गीता श्रीवास्तव, कुसुम आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस