मैनपुरी, जागरण संवाददाता : शनिवार को पुलिस अधीक्षक कार्यालय में परामर्श केंद्र का आयोजन किया गया। जिसमें दम्पतियों के बीच के विवाद को सुलझाने के लिए मशविरा दिया गया। 51 मामले केंद्र के सामने पेश हुए। दिनभर की मशक्कत के बाद परामर्श दाता एक जोड़े को समझौते के लिए राजी करा सके। केंद्र से ही दोनों को विदा किया गया। 20 मामलों में एक पक्ष अनुपस्थित था। अन्य में परामर्श देने के बावजूद समझौता नहीं हो पाया। उनकी सुनवाई के लिए आगे की तिथि पर बुलाया गया है।

घिरोर निवासी ज्योति का विवाह साल पहले नितिन निवासी सिरसागंज फीरोजाबाद के साथ हुआ था। एक साल पहले दम्पति के बीच विवाद हो गया। ज्योति मायके में आकर रहने लगी। 30 जून को ज्योति की ओर से परामर्श केंद्र में आवेदन किया गया। शिकायत पत्र में ज्योति ने नितिन के ऊपर उत्पीड़न का आरोप लगाया था। लेकिन दोनों पक्षों में बातचीत शुरू हुई तो मामूली विवाद सामने आया। परामर्शदाता आराधना गुप्ता, विजयलक्ष्मी राजपूत, मुजम्मिल मिर्जा, गंगा¨सह राजपूत ने दोनों के बीच का विवाद समाप्त करा दिया। ज्योति अपने पति के साथ जाने के लिए तैयार हो गई।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस