जासं, मैनपुरी : शहर के वार्ड नं. 32 नगला रते में वर्षों से बनी जलभराव की समस्या के स्थायी निराकरण को अब पालिका प्रशासन ने प्लान तैयार किया है। नाला निर्माण के बाद अब कालोनी में सड़क निर्माण की कवायद कराई जाएगी। इसके लिए स्थानीय लोगों से भी सहयोग की अपील की गई है।

शहर के आगरा रोड पर स्थित नगला रते में जलभराव एक बड़ी समस्या है। प्लाटों में भरा पानी लोगों की मुसीबत बढ़ाता है। बारिश होने पर स्थिति और भी ज्यादा विकराल हो जाती हैं। लोगों द्वारा इस समस्या को लेकर लगातार विरोध किया जाता रहा है। पालिकाध्यक्ष मनोरमा ने बताया कि इस क्षेत्र को जलभराव से निजात दिलाने के लिए काम हो रहा है। रामलीला मैदान से राजीव गांधी नगर तक नाला निर्माण कराया जा चुका है। इस नाला से एक प्वाइंट देकर प्लाटों में भरे हुए पानी को निकलवाने की कार्रवाई कराया जाना बाकी है। प्लाटों में भरे पानी की निकासी के लिए इंजन पंप सेट की मदद भी ली जाएगी। बारिश के बाद एक पंप सेट लगवाकर पानी निकलवाया गया है, लेकिन पूरी तरह से राहत नहीं हो पाई है। उनका कहना है कि जिस मुख्य गली में जलभराव की समस्या सबसे ज्यादा है, वह सड़क भी प्रस्तावित है। जल्द ही निर्माण शुरू करा दिया जाएगा। ये आ रही समस्या

पालिकाध्यक्ष का कहना है कि जिस मुख्य गली में जलभराव होता है वहां पहले से बने मकान समस्या बन रहे हैं। पुरानी सड़क बेहद नीची है। अगर सड़क निर्माण कराया जाएगा तो वहां किनारे बने मकान नीचे हो जाएंगे। अब स्थानीय लोगो से भी इस संबंध में बात की जाएगी। सभी के सहयोग से इस बड़ी समस्या का स्थायी निस्तारण कराया जाएगा। बजट मिलते ही शुरू होगा काम

पालिकाध्यक्ष मनोरमा का कहना है कि नाला से ज्वाइंट और सड़क निर्माण के लिए फिलहाल अतिरिक्त बजट नहीं है। बोर्ड की बैठक में बजट स्वीकृत होते ही सबसे पहला काम सड़क निर्माण का कराया जाएगा।

Edited By: Jagran