जागरण संवाददाता, मैनपुरी : केबिल के कटने से खंभे में करंट आ गया। पास बंधी भैंस की मौत हो गई। गुस्साए लोगों ने जाम लगा दिया। एसडीएम ने समझा बुझाकर 45 मिनट बाद जाम खुलवाया।

शहर कोतवाली इलाका में पीपरा घाट रोड पर कई नए मकान बने हैं। इस क्षेत्र में रहने वाले दूर से बिजली की केबिल डालकर घरों तक लाए हैं। केबिलों को हाईटेंशन लाइन के लोहे के खंभों पर बांधा गया है। इन केबिलों में जगह-जगह कट लग गए है। इनके जरिए लोहे के खंभों में करंट आ जाता है। यहां के निवासी बादशाह की भैंस रविवार को सुबह एक पोल के पास बंधी थी। रविवार सुबह भी पोल में करंट आने से भैंस की मौके पर ही मौत हो गई। लोगों में आक्रोश फैल गया।

गुस्साए लोगों ने घटनास्थल के पास सड़क पर जाम लगा दिया। पुलिस ने जाम खुलवाने की कोशिश की, लेकिन भीड़ नहीं मानी। एसडीएम सदर अशोक कुमार मौके पर पहुंच गए। गुस्साए लोग अवैध रुप से केबिल लगाने वालों के खिलाफ कार्रवाई और पीड़ित पशु स्वामी को मुआवजा दिलाने की मांग कर रहे थे। एसडीएम ने कार्रवाई का आश्वासन दिया तो करीब 45 मिनट बाद लोगों ने जाम खोल दिया। जानकारी मिलने पर बिजली विभाग के अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए। विद्युत अधिकारियों ने इन खंभों से केबिल हटवायी। जाम लगा रहे लोगो ने बताया कि करंट से भैंस मरने की यह पहली घटना नहीं है। इससे पहले पास के निवासी पशु पालक खुन्नू व हरिओम की भैंस भी करंट से मर चुकी है।

Posted By: Jagran