PreviousNext

उद्यमी की हत्या में पुलिस के हाथ खाली

Publish Date:Sun, 14 Jan 2018 10:30 PM (IST) | Updated Date:Sun, 14 Jan 2018 10:30 PM (IST)
उद्यमी की हत्या में पुलिस के हाथ खालीउद्यमी की हत्या में पुलिस के हाथ खाली
जागरण संवाददाता, मैनपुरी : उद्यमी मुरली तापड़िया के मोबाइल फोन की डिटेल से पुलिस को कोई

जागरण संवाददाता, मैनपुरी : उद्यमी मुरली तापड़िया के मोबाइल फोन की डिटेल से पुलिस को कोई सुराग नहीं मिला है। सुराग लगाने के लिए किराएदार के मोबाइल फोन को सर्विलांस पर लिया गया है। घटनास्थल के पास ही काम करने वाले आगरा के तीन मजदूरों को भी हिरासत में लिया गया है। घायल वृद्धा की हालत में पहले दिन सुधार हुआ, लेकिन अब हालत स्थिर बनी हुई है।

अवध नगर निवासी मुरली तापडि़या व उनकी वृद्ध मां बसंती देवी पर गुरुवार की रात बदमाशों ने हमला कर दिया था। मुरली तापडिय़ा की मौत हो गई थी। बसंती देवी को सैफई भर्ती कराया गया। पहले दिन उनकी हालत में कुछ सुधार हुआ तो पुलिस को घटना के संबंध में अहम जानकारियां मिलने की उम्मीद जागी, लेकिन कुछ सुधार के बाद उनकी हालत अब स्थिर हो गई है।

दूसरी ओर पुलिस की टीमें किसी नतीजे पर नहीं पहुंच सकी हैं। पुलिस को वृद्धा के होश में आने का इंतजार है। इसके साथ ही पुलिस की चारों टीमें मुहल्ले के लोगों से बातचीत कर सुराग हासिल करने की कोशिश में हैं।

बॉक्स

- किराएदार के मोबाइल से सुराग की तलाश

मुरली तापडि़या का मोबाइल फोन घर से गायब था। पुलिस ने सर्विलांस पर लिया। कॉल डिटेल भी निकलवाई, लेकिन कोई स राग नहीं मिला। अब पुलिस ने किराएदार के मोबाइल फोन को सर्विलांस पर लिया है। पुलिस का मानना है कि अगर किराएदार का घटना से कोई संबंध है तो मोबाइल के जरिए कोई न कोई सुराग अवश्य मिलेगा।

- आगरा के तीन मजदूर भी हिरासत में

घटनास्थल के पास ही एक घर म ं आगरा के तीन मजदूर पीओप लगाने का कार्य कर रहे थे। किराएदार के साथ पूछताछ के लिए उन्हें भी हिरासत में लिया है। मजदूरों से कोई सुराग मिला या नहीं, इसे लेकर पुलिस कोई जानकारी देने के लिए तैयार नहीं है।

- हर गुरुवार को आती थी एक कार

मुहल्ले के लोगों ने बताया कि घटना वाले दिन एक कार दोपहर को मुरली तापड़िया के घर के बाहर काफी देर तक खड़ी रही थी। कार से उतरे कुछ लोग किराएदार के कमरे की ओर गए थे। वे तीन घंटे तक रुके थे। एक स्कूटी देर शाम तक खड़ी देखी गई थी। लोगों ने बताया कि हर गुरुवार को कार यहां आती थी। कार से उतरने वाले लोग किराएदार के कमरे में जाया करते थे। कमरे में क्या होता था, इसे लेकर किसी को जानकारी नहीं है।

-किराएदार को अक्सर डांटती थी वृद्धा

किराएदार से मिलने के लिए लोगों का आना वृद्धा को पंसद नहीं था। उन्होंने कई बार किराएदार से मिलने-जुलने वालों पर रोक लगाने के लिए कहा था। कई बार डांट भी लगाई थी। किराएदार लंबे अरसे से मिल के गेट के पास बने कमरे में रह रहा था। पुराना हो जाने के कारण उसे वे निकालना नहीं चाहती थी।

- संपति के मालिकाना हक की भी जांच

मुरली तापडि़या का परिवार पुराना रईस है। उनके पिता मैनपुरी के पहले बड़े उद्योगपति थे। उनके पास करोड़ों की संपति थी। पिता की संपति का बंटवारा मुरली तापड़िया, उनकी मां व चारों सौतेले भाइयों के बीच किस प्रकार हुआ है। इसको लेकर भी पुलिस छानबीन करने में जुटी हुई है।

बॉक्स

मामले की जांच चल रही है। कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया है। सर्विलांस का भी प्रयोग किया जा रहा है। पुलिस की चार टीमें राजफाश करने में जुटी हैं। जल्द पता लगाकर हत्यारों को पकड़ लिया जाएगा।

आरके पांडेय, सीओ सिटी, मैनपुरी।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:mainpuri-Police hands down in the killing of entre(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

आलू किसानों पर कार्रवाई सही नहीं: शिवपालअंधेरे में तीर, वृद्धा के होश में आने का इंतजार