जागरण संवाददाता, मैनपुरी: स्वच्छता की रैं¨कग में जिला फिसड्डी साबित होता जा रहा है। हाल ही जारी हुई रैं¨कग में जिले को टॉप 50 में भी स्थान नहीं मिल सका। ऐसे में दो अक्टूबर तक जिले को ओडीएफ करने के दावे खोखले नजर आ रहे हैं। जिले में अभी शौचालयों का निर्माण भी बाकी है।

केंद्र सरकार द्वारा स्वच्छ भारत मिशन चलाया जा रहा है। इसके तहत हर घर में शौचालय बनवाने के साथ ही उसके उपयोग पर जोर दिया जा रहा है। इसके लिए पंचायत राज विभाग द्वारा शौचालयों का निर्माण कराया जा रहा है। लेकिन अब तक जिले में ये निर्माण कार्य पूरा नहीं हो पाया है। जबकि निर्धारित समय में से महज 17 दिन ही शेष रह गए हैं। बीते दिनों प्रदेश स्तर से जारी हुई रैं¨कग में भी इसका असर साफ दिखाई दिया। सभी जिलों की रैं¨कग में जिले को 70वां स्थान मिला है। जिससे साफ है कि कहीं न कहीं यहां स्वच्छ भारत मिशन में खामी रह गई है। वहीं जिला पंचायत राज अधिकारी यतेंद्र ¨सह का कहना है कि निर्धारित समय में शौचालय का निर्माण पूरा कर लिया जाएगा। आंकड़ों पर एक नजर

- 2 अक्टूबर तक ओडीएफ होना है जिला

- 1.84 लाख शौचालयों का होना था निर्माण

- 13 हजार शौचालय बनवाना है बाकी

- 806 गांव होने हैं ओडीएफ

- 432 गांव ही हुए हैं ओडीएफ

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप