जागरण संवाददाता, मैनपुरी : बहनोई के साथ बाइक से जा रहे युवक को चार नकाबपोश बदमाशों ने बंधक बना लिया। उसके पास रखी 50 हजार रुपये की नकदी और मोबाइल फोन भी लूट लिया। बहनोई को छोड़ दिया। पुलिस घटना को संदिग्ध मान रही है।

थाना औंछा के गांव मानपुर निवासी अमित कुमार की ननिहाल गांव खर्रा, थाना दन्नाहार में है। मंगलवार शाम करीब सात बजे अमित अपने बहनोई रामकुमार निवासी खेरिया, थाना सकीट एटा के साथ मामा रामलाल को 50 हजार रुपये देने जा रहा था। बाइक रामकुमार चला रहा था। शहर कोतवाली क्षेत्र में नगला भंत के पास सड़क किनारे खड़े चार नकाबपोश बदमाशों ने बाइक रुकवा ली। अमित के हाथ पांव बांधकर सड़क से कुछ दूर झाड़ियों में फेंक दिया। उसके पास रखी नगदी व मोबाइल लूटकर बदमाश फरार हो गए। अमित के बहनोई को जाने दिया।

किसी प्रकार खुद को मुक्त कराने के बाद अमित नगला भंत में अपनी रिश्तेदारी में पहुंचा। जानकारी पर उसके परिजन भी नगला भंत आ गए। उसे लेकर कोतवाली पहुंचे। अमित ने बताया कि उसकी बहन की मौत हो चुकी है। इसलिए बहनोई का स्वभाव बदल गया है। उसने, बहनोई पर लूट कराने का आरोप लगाया है। पुलिस ने जांच की तो अमित के बहनोई ने घटना को झूठा बताया। इंस्पेक्टर कोतवाली ने बताया कि घटना को लेकर अन्य कोई साक्ष्य नहीं मिले हैं।

Posted By: Jagran